उत्तराखण्ड ज़रा हटके

भारतीय उद्यमिता विकास संस्थान एवं एसेंचर ने महिलाओं को दी नई पहचान…..

ख़बर शेयर करें -

भारतीय उद्यमिता विकास संस्थान एवं एसेंचर ने महिलाओं को नई पहचान दी है। भारतीय उद्यमिता विकास संस्थान द्वारा प्रायोजित एसेंचर के ईoडी oआईo आईo एवं एसेंचर द्वारा प्रायोजित निर्मला सोशल रिसर्च एंड डेवलपमेंट सोसाइटी के तत्वावधान में आज चार  साप्ताहिक कौशल विकास प्रशिक्षण( एम० एस ०डी ०पी ०) जो की जूट, हैंडीक्राफ्ट पर आधारित  प्रोग्राम का समापन समारोह ग्राम पंचायत पौलगढ़, बैलपढ़ाओ में किया गया।

 

यह भी पढ़ें 👉  सड़क पर खूंखार बाघ का आतंक, बाइक सवार पर झपटा, व्यक्ति घायल......

इस अवसर पर कार्यक्रम की शुरुआत में प्रोजेक्ट कोऑर्डिनेटर श्री बालकिशन जोशी ने माननीय मुख्य अतिथि के समक्ष संस्था का परिचय कराते हुए उक्त चार साप्ताहिक कार्यक्रम की रूपरेखा विस्तृत रूप में बताई और संस्था की तरफ से मुख्य अतिथि बीटीसी मेंबर , जिला उद्योग केंद्र के पूर्व महाप्रबंधक श्री योगेश पांडे जी, समूह सी० आर०पी०, संस्था के निदेशक श्री संजीव कुमार भटनागर जी एवं प्रोग्राम कोऑर्डिनेटर श्रीमती हेमा बिष्ट जी एवं अन्य अतिथियों का स्वागत किया। कार्यक्रम को आगे बढ़ाते हुए निर्मला संस्था ने सभी महिलाओं को प्रशिक्षण लेकर आगे अपना रोजगार स्थापित करने तथा एक अच्छी महिला उद्यमी बनने के लिए उत्साहित किया और साथ ही उनको बधाइयां दी।

यह भी पढ़ें 👉  रिजॉर्ट में नहाते समय पर्यटक की हार्टअटैक से मौत, बिहार से कंपनी के टूर में आया था पर्यटक.....

 

जिला उद्योग केन्द्र के पूर्व महाप्रबंधक श्री योगेश पांडे ने सुक्ष्म जिला उद्योग का  विस्तृत परिचय देते हुए महिलाओं को लोन और जिला स्तरीय योजनाओं को विस्तार से बताया। बीटीसी मेंबर ने महिलाओं के रोजगार के लिए उचित सहयोग देने का आश्वासन दिया। कार्यक्रम में काजल, कविता, मानू चौधरी, सुनीता, मंजू देवी आदि 50 महिलाओं ने भाग लिया। इस मौके पर महिला प्रशिक्षणार्थियों  को प्रमाण पत्र भी बांटे गए। संस्था ने सभी महिलाओं के  उज्जवल भविष्य की कामना की।

Leave a Reply