उत्तराखण्ड कोटद्वार ज़रा हटके

पश्चिमी झंडी चौड के विश्वकर्मा मंदिर में सृष्टि के निर्माता भगवान विश्वकर्मा जयंती बड़े धूमधाम से मनाई गई…..

ख़बर शेयर करें -

कोटद्वार- भगवान विश्वकर्मा जयंती के अवसर पर वार्ड नंबर 37 पश्चिमी झंडी चौड के विश्वकर्मा मंदिर में सृष्टि के निर्माता भगवान विश्वकर्मा जयंती बड़े धूमधाम से मनाई गई मंदिर में पूजा अर्चना की गई तथा अपने औजारों की पूजा की गई बड़ी संख्या में कर्मकार लोगों ने अपने काम करने वाले औजारों को लाकर मंदिर में पूजा अर्चना की पार्षद व मंदिर समिति के अध्यक्ष सुखपाल शाह ने कहा लगभग 40  वर्ष पहले स्वर्गीय रामेश्वर दयाल शाह ने अपने स्वर्गीय माता-पिता के स्मृति में यहां भूमि श्री विश्वकर्मा मंदिर के लिए दान दी थी

 

यह भी पढ़ें 👉  SSP पौड़ी के निर्देशों के क्रम में फिर पौड़ी पुलिस के हत्थे चढ़ा एक शराब तस्कर.....

पौड़ी गढ़वाल के एकमात्र मंदिर वार्ड नंबर 37 पश्चिम झंडी  चौड मे बना है हर साल 17 सितंबर को विश्वकर्मा जयंती पर औजारों की पूजा की जाती है तथा कर्मगारो को सम्मानित भी किया जाता है इस अवसर पर भाबर क्षेत्र की बड़ी संख्या में कर्मकारों ने मंदिर में पूजा अर्चना की तथा स्थानीय लोगों ने माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जन्मदिन  भी धूमधाम से मनाया गया आज ही प्रधानमंत्री ने पीएम विश्वकर्मा रोजगार योजना का शुभारंभ किया गया जिसमें 18 प्रकार से अधिक पारंपरिक कारीगरों को हुनर का सम्मान करते हुए विभिन्न योजनाओं के लिए 3 लाख तक का बिना गारंटी ऋण दिया जाएगा

यह भी पढ़ें 👉  एसएसपी ऊधम सिंह नगर डॉ0 मंजुनाथ टीसी महोदय द्वारा कोतवाली जसपुर का किया गया वार्षिक निरीक्षण.....

 

योजनाओं को शुरू करने के लिए उनका आभार जताया इससे टेक्निकल काम करने वाले छोटे कर्मकारों को  बड़ा लाभ होगा इस अवसर पर पार्षद सुखपाल शाह नामित पार्षद परशुराम पंडित धनवीर पंडित चंद्र मोहन पूर्व प्रधान पुष्पा देवी शाह लक्ष्मी देवी जग सोनी देवी सुनीता देवी राजेंद्र सिंह चौहान नयन सिंह बिष्ट हरि सिंह रावत सुरेश चंद टीकाराम रघुवीर सिंह सोहनलाल  टीकाराम जयराज सूर्य प्रकाश खैरा गोविंद सिंह धर्म सिंह सुरेंद्र सिंह पवार चंद्र प्रकाश कुंवर दत बच्चन सिंह गोसाई गजे सिंह कल्याण सिंह सत्येंद्र सिंह लव किशोर शर्मा राम स्वरूप आदि बड़ी संख्या में स्थानीय ग्रामीणों ने कर्मकारों ने इस पूजा अर्चना में भाग लिया तथा भगवान विश्वकर्मा का आशीर्वाद लिया।

Leave a Reply