उत्तराखण्ड क्राइम रामनगर

मुख्यमंत्री और हाईकोर्ट की आदेश की उड़ रही धज्जियाँ कब होगी कार्यवाही, वन भूमि से अतिक्रमण हटाने के फरमान जारी…..

ख़बर शेयर करें -

 

रामनगर-भले ही उत्तराखंड हाईकोर्ट ओर राज्य सरकार से लगातार वन भूमि से अतिक्रमण हटाने के फरमान जारी हो रहे हो लेकिन आपराधिक प्रवर्ति के वन गुर्जर मो० सफी पुत्र मो० आलम निवासी तुमड़िया खत्ता के मन में हाईकोर्ट ओर राज्य सरकार के आदेशों का कोई भय नही दिख रहा है।

 

मो० सफी के द्वारा वर्तमान में भी वन भूमि पर अतिक्रमण कर अवैध रूप से फसल उगाई जा रही हैं। सफी के द्वारा गर्मी में धान की फसल उगाई गई थी जो पर्यावरण और लगातार घटते भूमिगत जल स्तर के लिए बहुत घातक साबित होता हैं

यह भी पढ़ें 👉  क्षेत्र वासियों की लंबे समय से चली जा रही मांग को केंद्र सरकार ने दी स्वीकृति……

 

सफी के द्वारा गर्मी की फसल को काटने के लिए कम्बाइन मशीन स्वामी को रजिस्ट्री की जमीन बता कर वन भूमि पर फसल काटने के लिए लगाया था मशीन स्वामी को जैसे ही पता चला कि ये वन भूमि हैं मशीन स्वामी ने फसल काटने मना कर दिया तो सफी, असरफ अली, करामत अली ने मशीन स्वामी के साथ मारपीट करते हुए गली गलौच की और जान से मारने की धमकी दी

यह भी पढ़ें 👉  बनभूलपुरा दंगे में शामिल अब्दुल मलिक और उसके बेटे की संपत्ति की कुर्की, वीडियो ...

 

और डरा धमका कर फसल को कटवा लिया मशीन स्वामी ने अपने साथ हुई घटना की तहरीर रामनगर कोतवाली को दी थी जिसमे उक्त व्यक्तियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ हैं।

 

ऐसे ही चंद आपराधिक प्रवर्ति वन गुर्जरों की वजह से वह सब निर्दोष वन गुर्जर भी बदनाम हो रहे है। विपरीत परिस्थितियों में जो पशुपालन कर अपने परिवार का पालन पोषण किसी तरह कर रहे है अब उन सब वन गुर्जरों को भी वन विभाग की कार्यवाही का डर सता रहा है जिनके ऊपर ना तो वन विभाग में आपराधिक मामले दर्ज हैं ना ही किसी अवैध गतिविधियों में लिप्त हैं।

यह भी पढ़ें 👉  अजय भट्ट के विशेष प्रयासों से लालकुआं-अमृतसर ट्रेन संचालन को मिली मंजूरी......

 

Leave a Reply