उत्तराखण्ड ज़रा हटके रुद्रपुर

फिर धरने पर बैठे श्रमिक, भूख-हड़ताल शुरू…

ख़बर शेयर करें -

 रुद्रपुर-(एम सलीम खान)इटर्राक मजदूर संगठन के निकालें गए श्रमिकों की बहाली की मांग को लेकर श्रमिकों बीते रोज से सामूहिक भूख हड़ताल शुरू कर दी।इस दौरान उन्होंने जोरदार विरोध प्रदर्शन किया।इस विरोध प्रदर्शन में श्रमिकों संगठनों ने अपनी भागीदारी सुनिश्चित करते हुए समर्थन दिया।26 अप्रैल को सिडकुल में हुई मजदूर किसान महापंचायत में तय किया गया था कि इटर्राक मजदूर संगठन के समर्थन में 24 म ई से सामूहिक भूख हड़ताल और जिला मुख्यालय पर मार्च निकाला जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  विवेक अग्रवाल, प्रो वाइस चेयरमैन, दिल्ली पब्लिक स्कूल, हल्द्वानी के प्रेरक शब्द

 

जिसके बाद बीते रोज भारी संख्या में श्रमिकों और उनके परिवार की महिलाओं और बच्चों ने सिडकुल स्थित पारले चौक पर जमा होकर वहां से तय कार्यक्रम के तहत सामूहिक रूप से भूख हड़ताल की।इस दौरान सभा में उपस्थित श्रमिक नेताओं ने शासन प्रशासन के खिलाफ जमकर गुस्सा निकाला। श्रमिकों ने शहीद सरदार करतार सिंह सराभा को भी याद किया और श्रद्धांजलि अर्पित की। सभा को संबोधित करते हुए श्रमिकों ने कहा कि हाईकोर्ट ने एक अप्रैल 2022 को स्पष्ट आदेश दिया था कि छह सप्ताह के भीतर इटर्राक कंपनी सिडकुल की तालाबंदी के संबंध में कार्रवाई की जाएं।दो म ई को इस मामले को छह सप्ताह का समय पूरा हो गया।

यह भी पढ़ें 👉  पेट दर्द की समस्या लेकर अस्पताल आई युवती, मृत भ्रूण को दिया जन्म…...

लेकिन शासन द्वारा उक्त मामले में अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है।जो हाईकोर्ट के आदेश का पालन नहीं है।इसे कोर्ट के आदेशों की अवमानना माना जा रहा है। जिसके कारण तीन महीने से श्रमिक और उनके परिवार के लोग बेरोजगारी की मार झेल रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  SST टीम द्वारा एक सवीफ्ट डिजायर कार से बरामद किये 06 लाख रुपए.......

 

श्रमिकों ने कपनी के पंतनगर प्लाट और किच्छा प्लांट में सैकड़ों मशीन और संपूर्ण कच्चे माल को स्थानांतरित कर दिया है और पंतनगर प्लांट में कार्यरत चार सौ श्रमिकों को और स्थाई मजदूरों को को कंपनी में स्थानांतरित कर दिया। 

Leave a Reply