उत्तराखण्ड ज़रा हटके रुद्रपुर

अवैध वसूली करके उत्तराखण्ड में भय का माहौल बना रहे भाजपा नेताः सीपी शर्मा……

ख़बर शेयर करें -

रूद्रपुर- सिडकुल में चल रहे अवैध वसूली के खेल की महानगर कांग्रेस ने निन्दा करते हुए मामले की निष्पक्ष जांच की मांग उठाई है। महानगर अध्यक्ष ने आरोप लगाया है कि भाजपा के नेता उत्तराखण्ड को बिहार बनाने पर तुले हैं। महानगर कांग्रेस अध्यक्ष सीपी शर्मा ने बयान जारी करते हुए कहा कि सिडकुल में भाजपा विधायक के संरक्षण में  अवैध वसूली होना शर्मनाक और देवभूमि को कलंकित करने वाला कृत्य है। कांग्रेस पार्टी इसकी घोर निन्दा करती है।

 

उन्होंने कहा कि विकास पुरूष पंडित नारायण दत्त तिवारी ने जिस उद्देश्य से सिडकुल की स्थापना की थी आज उन उद्देश्यों पर भाजपा के नेता पलीता लगा रहे है। सिडकुल की स्थापना के पीछे पंडित नारायण दत्त तिवारी का उद्देश्य था कि इससे स्थानीय लोगों को रोजगार मिलेगा और औद्योगिक विकास से उत्तराखण्ड का भी आर्थिक विकास होगा। सिडकुल की स्थापना के बाद तराई ही नहीं बल्कि पूरे कुमांऊ को इसका लाभ मिला और रुद्रपुर  को विश्व पटल पर पहचान मिली लेकिन आज भाजपा के कुछ नेता उद्योगों में वसूली करके इस क्षेत्र को गुंडा राज कायम करने की कोशिश कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  सारथी फाउंडेशन समिति ने बाबा नीब करोली महाराज के कैंची धाम के स्थापना दिवस के अवसर पर प्रसाद वितरण किया.....

 

सीपी शर्मा ने कहा कि आज सिडकुल में हो रही अवैध वसूली के चलते उद्योगपतियों में भय का वातावरण बन रहा है। जिसके चलते कई उद्योगपति यहां से पलायन कर चुके हैं और कई उद्योग बंदी के कगार पर हैं। एक तरफ मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी उद्योगों को बढ़ावा देने और बाहर के निवेशकों को यहां लाने के लिए इनवेस्टर समिट करते हैं तो दूसरी तरफ उन्हीं के नेता औद्योगिक क्षेत्र में 33 प्रतिशत का खेल खेलकर औद्योगिक अशांति का वातावरण पैदा करके निवेशकों को यहां से भागने के लिए मजबूर कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  जिला कांग्रेस के पदाधिकारियों ने बहुचर्चित उद्यान विभाग घोटाले में कार्यवाही की मांग को दिया ज्ञापन.....

 

महानगर अध्यक्ष ने कहा कि विधायक के करीबी भाजपा नेता का अवैध वसूली का ऑडियो बकायदा सोशल मीडिया पर वायरल हो चुका है जिसमें भाजपा का जिला स्तर का नेता विधायक के नाम पर एक कारोबारी से 33 प्रतिशत हिस्सेदारी की खुली मांग कर रहा है। भाजपा के राज में यह एक तरह से गुण्डा राज का जीता जागता उदाहरण है। आडियो सामने आने के बाद भी इस मामले में पुलिस मौन है। इस मामले में पुलिस की लापरवाही आने वाले समय में गैंगवार को आमंत्रण दे रही है। महानगर अध्यक्ष ने कहा कि इस पूरे प्रकरण की निष्पक्ष जांच की जानी चाहिए।

यह भी पढ़ें 👉  यानापाचा को जीतना: एक पर्वतारोही की कहानी......

 

सिडकुल में पूर्व में इस तरह के जो मामले हैं उनका भी संज्ञान लेकर  निष्पक्ष जांच की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि इस मामले में जल्द ही पुलिस ने एक्शन लेकर सिडकुल में शांति बनाने के लिए ठोस कदम नहीं उठाये तो कांग्रेस एवं अन्य सामाजिक संगठन आंदोलन का रास्ता अपनाने के लिए मजबूर होंगे उद्योगों में इस तरह की मानसिकता के लोगों का विरोध हो यह हम सबकी जिम्मेदारी है चाहे वो किसी भी दल या पार्टी से जुड़ा कोई भी व्यक्ति हो महानगर अध्यक्ष ने विधायक को भी सलाह दी है कि वह ऐसे लोगों को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखायें जो सिडकुल में अवैध वसूली का खेल खेलकर उन्हें और पार्टी को कलंकित कर रहे हैं।

Leave a Reply