उत्तराखण्ड ज़रा हटके रुद्रपुर

नजूल नीति का लाभ आम लोगों को मिले महापौर रामपाल सिंह, बंगाली कॉलोनी में लोगों को किया जागरूक….

ख़बर शेयर करें -

रुद्रपुर- नई नजूल नीति का लाभ पात्र लोगों को पहुंचाने के लिए प्रक्रिया शुरू हो गयी। नगर निगम की ओर से बुधवार को वार्ड 35 इंदिरा बंगाली कालोनी में शिविर लगाकर लोगों के फार्म भरे गये। मेयर रामपाल सिंह ने लोगों से नीति का लाभ उठाने का आहवान किया। वार्ड में जाने से पूर्व नगर निगम कार्यालय में मेयर रामपाल सिंह ने मुख्य नगर आयुक्त नरेश चंद्र दुर्गापाल, एसडीएम मनीष बिष्ट, तहसीलदार पूजा शर्मा, सहायक नगर आयुक्त दीपक गोस्वामी राजस्व विभाग एवं नगर निगम के अधिकारियों के साथ सरलीकरण को लेकर बैठक की ।

बता दें हाल ही में सरकार ने नई नजूल नीति का सरलीकरण किया था जिसके तहत पचास वर्ग मीटर तक के भूखण्डों का मालिकाना हक दिलाने के लिए उन्हें निःशुल्क फ्रीहोल्ड किया जा रहा है। नीति का लाभ अधिक से अधिक तक लोगों तक पहुंचाने के लिए मेयर के निर्देश पर आज   शहर में पहला कैम्प आदर्श इंदिरा बंगाली कालोनी में लगाया गया। जिसका शुभारम्भ मेयर रामपाल सिंह और मुख्य नगर आयुक्त नरेश चंद्र दुर्गापाल ने संयुक्त रूप से किया। शिविर में नगर निगम कर्मियों ने पात्र लोगों के फार्म भरे और लोगों को नई नजूल नीति के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

यह भी पढ़ें 👉  अजय भट्ट के विशेष प्रयासों से लालकुआं-अमृतसर ट्रेन संचालन को मिली मंजूरी......

इस अवसर पर मेयर रामपाल सिंह ने कहा कि हाल ही में सरकार ने नजूल नीति को संशोधित करते हुए नजूल भूमि पर काबिज आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के परिवारों, जो प्रधानमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत प्राविधानित मानकों के अधीन पात्रता की श्रेणी में आते हों और जिनका नजूल नीति, 2021 में उल्लेखित कट ऑफ डेट दिनांकः 09-11-2011 से पूर्व कब्जा हो, को 50 वर्गमीटर तक आवासीय भूमि को निःशुल्क उपलब्ध कराने की सुविधा प्रदान की जा रही है।  इस  नीति का लाभ अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचाने के लिए सभी वर्गों में शिविर आयोजित किये जायेंगे।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी- मास्टरमाइंड मलिक के घर में मिले जिंदा कारतूस....

उन्होंने कहा कि फ्रीहोल्ड की प्रक्रिया को पूरी ईमानदारी एवं पारदर्शिता से पूरा किया जायेगा। मेयर ने कहा कि लोग किसी भी जालसाज के बहकावे में न आयें, बल्कि जमीन को फ्री होल्ड कराने हेतु स्वयं जिम्मेवार लोगों से संपर्क करें । मेयर ने कहा कि नजूल नीति पर मालिकाना हक दिलाना उनकी प्राथमिकता थी। चुनाव के दौरान उन्होंने जनता से वायदा किया था और संकल्प लिया था कि जब तक नजूल नीति का सरलीकरण नहीं होता तब तक वह कुर्सी पर नहीं बैठेंगे।

यह भी पढ़ें 👉  अब्दुल मालिक और मालिक की पत्नी पर प्रशासन ने कसा शिकंजा, मुकदमा दर्ज ,13 बीघा जमीन खुर्द-बुर्द का आरोप .....

लम्बे समय से किये जा रहे प्रयासों के बाद आखिरकार मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने जनता की पीड़ा को समझते हुए नजूल नीति का सरलीकरण किया है। जिसका लाभ रूद्रपुर शहर के हजारों लोगों को मिलेगा। मेयर ने कहा कि भाजपा सरकार जनता की सच्ची हितैषी है। नजूल नीति का सरलीकरण करके मुख्यमंत्री धामी ने शहरवासियों को सबसे बड़ी सौगात दी है। उन्होंने कहा कि नजूल भूमि फ्रीहोल्ड होने से अब लोगों को बैंक लोन मिलने में दिक्कतें नहीं आयेंगी।

Leave a Reply