उत्तराखण्ड ज़रा हटके देहरादून

मुसलमान न किराएदार थे, न बाहरी हैं: ईद मिलन समारोह में बोले इंद्रेश कुमार……

ख़बर शेयर करें -

देहरादून/ नई दिल्ली।जो लोग मुस्लिम समाज को किरायेदार या बाहरी कहते हैं, वह भड़काने का काम करते हैं. मुसलमान न किराएदार थे, न बाहरी हैं, बल्कि इसी देश के नागरिक हैं. हम सबका डीएनए एक है. इस देश के 99 प्रतिशत मुसलमान यहीं के हैं, उनके पूर्वज यहीं के हैं, उन्होंने अपना मजहब भले ही बदला हो लेकिन वो सभी यहीं के हैं. उक्त बातें राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक और मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के मार्गदर्शक इंद्रेश कुमार ने बुधवार को राजघाट स्थित सत्याग्रह मंडप में मुस्लिम मंच द्वारा आयोजित ईद मिलन समारोह में कहीं इंद्रेश कुमार ने अपने भाषण में कहा कि हमें मजहबों के नाम पर बंटना नहीं है, हमें हिंदुस्तानियत और इंसानियत की ओर बढ़ते जाना है.

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी- फंदे पर लटका मिला दिल्ली की छात्रा का शव......

 

हम, देश को ऐसा मुल्क बनाएंगे, जो भाईचारा और मोहब्बत सिखाता है. जो रसूल और इमाम-ए-हिंद राम को पसंद था. उन्होंने कहा कि मुसलमान जानता है कि वो हिंदुस्तानी था, है, और रहेगा सोच-समझकर मतदान करने की अपील उन्होंने कहा कि इस देश का प्रत्येक भारतीय हिंदुस्तानी है और यदि आप उसे जाति या धर्म में वर्गीकृत कर रहे हैं तो यह वास्तव में दुर्भाग्यपूर्ण है. जिस दिन हम यह मान लेंगे कि हम सभी हिंदुस्तानी हैं, उस दिन देश दंगा मुक्त, भूख मुक्त, हिंसा मुक्त, मजहबी कट्टरता मुक्त हो जाएगा ईद मिलन के मौके पर इंद्रेश कुमार ने इस चुनाव में सोच-समझकर मतदान का आह्वान करते हुए कहा कि हम उन्हीं को पसंद करते हैं जो सबको साथ लेकर चले. हमारा पैगाम दंगा, नफरत, छुआछूत, प्रदूषण व भूख से मौत से मुक्ति की है.

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी- सड़क हादसे में दो युवकों की मौत, तीन घायल.....

 

इंद्रेश कुमार ने राहुल गांधी के ट्वीट पर कहा कि कुछ नेताओं को जहर उगलने की आदत होती है, भगवान उन्हें ऐसे बयानों से बचने की सद्बुद्धि दे. मालूम हो कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट किया था कि दलितों, OBC समाज, आदिवासियों और अल्पसंख्यकों समेत 90 प्रतिशत के साथ भयंकर अन्याय हो रहा है. हमें हिन्दू और मुसलमान में नहीं बंटना हैं ईद मिलन कार्यक्रम में इमाम संगठन के चीफ इमाम उमेर इलियासी ने अपने भाषण में कहा कि हमें हिन्दू और मुसलमान में नहीं बंटना हैं, हमें देश की सेवा के लिए आगे बढ़ना चाहिए. हमारी इबादत करने के तौर तरीके अलग हैं लेकिन हम सब का डीएनए एक हैं.

यह भी पढ़ें 👉  पद्म श्री डा. यशवंत सिंह कठोच को किया सम्मानित......

 

कार्यक्रम में शामिल लोग सम्मेलन में राष्ट्रीय शैक्षणिक संस्था आयोग के सदस्य शाहिद अख्तर, हरियाणा हज कमेटी के अध्यक्ष मोहसिन चौधरी, हरियाणा सरकार के पूर्व मंत्री मोहम्मद जाकिर, मौलाना आजाद नेशनल उर्दू यूनिवर्सिटी के पूर्व चांसलर फिरोज बख्त, अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर डॉक्टर एमयू रब्बानी, जम्मू की एमएलसी नसरीन, कश्मीर सेवा संघ के अध्यक्ष फिरदौस बाबा, जम्मू कश्मीर डीएसपी स्पेशल कमांडो फोर्स शाहिदा परवीन गांगुली, NCPUL के निर्देश शम्स इकबाल, पूर्व न्यायाधीश मोहम्मद शमशाद, इंडिया इस्लामिक सेंटर के अध्यक्ष सिराज कुरैशी समेत मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के सभी राष्ट्रीय संयोजक, प्रांत और क्षेत्रीय संयोजक और सह संयोजक मौजूद थे. मंच की महिला प्रमुख शालिनी अली,  इसके अलावा देश भर से हजारों कार्यकर्ता और बुद्धिजीवी मौजूद थे।

Leave a Reply