क्राइम देश-विदेश

आपसी विवाद में आठ माह की गर्भवती पत्नी की हत्या, दो साल पहले किया था प्रेम विवाह…..

ख़बर शेयर करें -

उन्नाव के बांगरमऊ में मायके में रह रही गर्भवती पत्नी से रात में हुए आपसी विवाद के बाद पति ने गले और दोनों हाथ पर हमला कर हत्या कर दी। वह रात में ही भाग निकला। मृतका के पिता की तहरीर पर पुलिस ने पति पर रिपोर्ट दर्ज कर तलाश शुरू कर दी है। दो डॉक्टरों के पैनल से कराए गए पोस्टमार्टम में गर्दन पर ब्लेड से तीन वार और दोनों हाथ की नस काटने की पुष्टि हुई है। दो साल पहले आसीवन थानाक्षेत्र के गांव बारीथाना में संजीदा (अब मृतका) के चचेरे भाई शानू की शादी थी।

यह भी पढ़ें 👉  जसपुर क्षेत्र में, 04.55 ग्राम स्मैक के साथ "स्मैक तस्कर", उधम सिंह नगर पुलिस की गिरफ़्त में…..

 

वह शादी में शामिल होने गई थी। इसी शादी में चचेरे बड़े भाई फहीम का साला फतेहपुर चौरासी के पैंतरा गांव निवासी समीर (हत्यारोपी पति) भी शामिल होने आया था। दोनों में बातचीत हुई और फिर फोन पर बात होने लगी और नजदीकियां बढ़ गईं। इसके बाद पति से अनबन के चलते संजीदा अधिकतर मायके में रहने लगी। कन्नौज निवासी पति को इसकी जानकारी हुई तो उसने संजीदा को तलाक दे दिया और बेटी नाबिया को भी साथ रखने से इन्कार कर दिया।

 

तलाक के बाद संजीदा और समीर ने परिजनों को बिना बताए कोर्ट मैरिज कर ली। हत्या को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं हैं। जिसमें मृतका के किसी दूसरे से बात करने के साथ उसके गर्भ में पल रही दूसरी बेटी भी हो सकती है। उसके पहले से भी एक बेटी थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक आठ महीने की गर्भवती मृतका संजीता के गर्भ में दूसरी भी बेटी ही थी। डॉक्टर ने 25 अगस्त प्रसव की तिथि दे रखी थी। परिजन प्रसव का इंतजार कर रहे थे।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी- बनभूलपरा में रिश्तेदारों ने महिला पर चाकू से बोला हमला, बीच बचाव को आए बेटे भी घायल......

 

लेकिन पांच दिन पहले वह हमेशा के लिए परिजनों से जुदा हो गई। घटना के बाद हत्यारोपी को पकड़ने के लिए पुलिस ने उसका मोबाइल नंबर सर्विलांस पर लगाया तो उसकी लोकेशन आसीवन मिली। लेकिन बाद में मोबाइल बंद हो जाने से पुलिस को सफलता नहीं मिल पाई। जबकि मृतका का मोबाइल अभी उसकी मां के पास है। उस मोबाइल को भी सर्विलांस पर लगाया जाएगा तभी घटना की सच्चाई सामने आ सकेगी।

यह भी पढ़ें 👉  ऊधम सिंह नगर पुलिस ने शातिर मोबाईल झपट्टा मार गिरोह का किया पर्दाफाश......

 

मृतका संजीदा सात भाई बहनों में सबसे छोटी थी। घर वाले भी उसे बहुत प्यार करते थे। उसकी हत्या के बाद से सभी बेहाल हैं। परिजन दामाद के घर वालों पर हत्या करने के लिए उकासाने का आरोप लगा रहे हैं। पुलिस हर बिंदु पर जांच कर रही है। ताकि हकीकत सामने आ सके।

 

Leave a Reply