क्राइम दिल्ली

यातायात पुलिस की वर्दी पहनकर बदमाशों ने की 50 लाख की लूट…..

ख़बर शेयर करें -

दिल्ली- आईपी इस्टेट इलाके में बुधवार शाम यातायात पुलिस की वर्दी पहनकर बदमाशों ने पान मसाला कंपनी के कार सवार कर्मचारियों से 50 लाख रुपये लेकर फरार हो गए। यातायात पुलिस की वर्दी में सवार दो बदमाशों ने सलीमगढ़ फ्लाई ओवर के पास कार तलाशी के बहाने रुकवाई। फिर दूसरी बाइक से आए दो बदमाश कार की डिग्गी से बैग लेकर फरार हो गए। पीड़ितों की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

 

पुलिस बदमाशों के भागने की दिशा में लगे सीसीटीवी कैमरे के जरिए उनकी पहचान करने में जुटी है। पुलिस अधिकारी ने बताया कि मोदी नगर गाजियाबाद में रहने वाले सुरेंद्र पाल पान बहार कंपनी में काम करते हैं। कंपनी का कार्यालय मोती नगर में है। सुरेंद्र पाल ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि बुधवार को वह अपने एक सहयोगी कर्मचारी के साथ पेमेंट लेने के लिए चांदनी चौक आए थे। कूंचा घासीराम में उनके कई ग्राहक हैं। सभी से पैसे लेने के बाद वह शाम को हुंडई वेन्यू कार से अपने कार्यालय के लिए रवाना हुए।

यह भी पढ़ें 👉  पुलिस ने युवती से दुष्कर्म करने वाले अभियुक्त को पंचकुला से किया गिरफ्तार......

 

सीलमपुर फ्लाई ओवर पर यातायात पुलिसकर्मी की वर्दी पहने दो बाइक सवारों ने उनकी कार को रुकवाया। दोनों ने उन्हें कार की तलाशी लेने की बात कही। पीड़ित ने बताया कि एक के पास वायरलेस सेट भी था। इससे उन्हें लगा कि वह पुलिस वाले हैं। उनलोगों ने कार की डिग्गी खोलने के लिए कहा।  जैसे ही उन्होंने डिग्गी खोली। इसी दौरान एक बाइक पर सवार दो युवक आए। उन्होंने कार की डिग्गी में रखे नकदी से भरे बैग को उठाया और बाइक पर सवार होकर फरार हो गए। पीड़ित कुछ समझ पाते उनकी कार रुकवाने वाले पुलिस की वर्दी पहने बदमाश भी बाइक पर सवार होकर उनके पीछे भाग गए।

यह भी पढ़ें 👉  चोरी की मोटर साईकिल के साथ, तीन शातिर मोटर साईकिल चोर गिरफतार......

 

पीड़ितों ने घटना की जानकारी पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने छानबीन करने के बाद पहचान बदलकर छल करने, तैयारी कर चोरी करने सहित अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है। जांच से जुड़े अधिकारी का मानना है कि बदमाशों ने कई दिन से रेकी करने के बाद वारदात को अंजाम दिया है।

यह भी पढ़ें 👉  घरेलू विवाद में तेजाब पीकर पत्नी पर कैंची से हमला……

 

आशंका है कि बदमाश वारदात को अंजाम देने के दौरान पीड़ितों का कूंचा घासीराम से ही पीछा कर रहे थे। साथ ही यह भी आशंका है कि वारदात में चार से ज्यादा बदमाश शामिल हो सकते हैं। पुलिस अधिकारी ने बताया कि वारदात के बाद जिले की स्पेशल स्टाफ के साथ साथ पुलिस की कई टीम गठित कर दी गई है। पीड़ित कर्मचारियों से भी पूछताछ कर रही है।

 

 

 

Leave a Reply