लालकुआं

भारत रत्न पंडित गोविंद बल्लभ पंत का 134वां जन्म उत्सव बड़े ही धूमधाम से मनाया जायेगा – गोपाल सिंह रावत

ख़बर शेयर करें -

लालकुआ – (जफ़र अंसारी) भारत रत्न पंडित गोविंद बल्लभ पंत का 134वां जन्म उत्सव मनाने के लिए बनाए गए संगठन के संयोजक द्वारा आयोजित समारोह में पंडित जी को पुष्पांजलि अर्पित की जाएगी। संयोजक गोपाल रावत ने बताया कि प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी जन्मोत्सव समारोह में परम्परा के अनुसार अनेक विशिष्ट एवं गणमान्य महानुभाव अतिथियों के द्वारा अपनी श्रद्धा सुमन अर्पित की जाएगी। इसमें स्वतंत्रता सेनानी ,पूर्व राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, पूर्व प्रधानमंत्री ,लोकसभा अध्यक्ष ,केंद्रीय मंत्री ,पूर्व केंद्रीय मंत्री, राज्यपाल, सांसद , कूटनीतिज्ञ, पूर्व रक्षा मंत्री केसी पंत व पूर्व सांसद इला पंत इत्यादि सम्मिलित होंगे |संयोजक ने कहा कि गत वर्ष की भांति इस वर्ष भी पंडित जी का जन्मोत्सव मनाए जाने की तैयारी पूरी की जा चुकी है साथ ही उन्होंने कहा कि प्राप्त समाचार के अनुसार कोरोनावायरस की पहली व दूसरी लहर में संगठन से जुड़े कई परिवारों से हमें दुखद समाचार भी प्राप्त हुआ संगठन से जुड़े भाई लोग अब हमारी बीच नहीं रहे यह भी एक बड़ा ही दुखद समय है हमारे लिए जो परिवार अपनों को इस काल में खो चुके हैं उनके लिए हमारी व पूरे संगठन की ओर से सहानुभूति व्यक्त करते हैं सभी परिवारों के लिए हम अपनी संवेदना प्रकट करते हैं।

यह भी पढ़ें 👉  लंबे समय से चल रहे भ्रष्टाचारों की शिकायत के बाद पूर्व जी एम के खिलाफ चार्ज शीट की तैयारी......

                                             

गत वर्ष भी भारत में पंडित गोविंद बल्लभ पंत जी का 133 वी जन्म दिवस समारोह संपूर्ण भारत वर्ष में लगभग 70 स्थानों पर आयोजित किया गया जिसमें कोरोना काल को ध्यान में रखते हुए दिशा निर्देशों का पालन करके औपचारिक रूप से ही मनाया गया था। इस अवसर पर उत्तराखंड में जन्म दिवस समारोह विभिन्न स्थानों में मनाए जाना सुनिश्चित किया गया है जिसमें दिल्ली, लखनऊ, देहरादून ,इलाहाबाद, नैनीताल ,उधम सिंह नगर, पंतनगर, बागेश्वर, चंपावत ,उत्तरकाशी , पिथौरागढ़ ,अल्मोड़ा एवं पंडित जी की जन्म स्थली खूंट प्रमुख है। पिछले 20 वर्षों से संयोजक द्वारा परिवार की भांति ही पूरे प्रदेश भर में भारत रत्न पंडित पंत जी का जन्म दिवस धूमधाम से मनाया जाता है जिसमें हर साल 50 से 60 हजार लगभग लोग भाग लेते हैं संयोजक द्वारा जन्म दिवस के अवसर पर रक्तदान पौधारोपण अभियान एवं अन्य कार्यक्रम सामाजिक उत्थान में किए जाते हैं | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीसरी लहर के बारे में लोगों को सावधान करते हुए कहा है आज हम बहुत जोर देकर कहेंगे की हिल स्टेशनों में बाजारों में व सामाजिक स्थलों पर बिना मास्क लगाएं, बिना प्रोटोकॉल को अमल में लिए भारी भीड़ न करें  मैं समझता हूं कि यह चिंता का विषय है। यह किसी के लिए भी सही नहीं है यह बातें लोगों को समझनी जरूरी है कि तीसरी लहर को लेकर हमें अपने परिवार व अपने समाज को सुरक्षित रखना बहुत ही जरूरी है। WHO ने कहा है कि दुर्भाग्य से हम कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर के शुरुआती दौर में हैं। वही भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) ने आशंका जताई है कि अगस्त अंत तीसरी लहर आ सकती है। इसलिए हम सभी को सुरक्षित रहते हुए अपने देश समाज परिवेश व अपनों को सुरक्षित रखना है व नई युवा पीढ़ी को आने वाले समय के लिए यह संदेश देना है कि कम साधनों में भी जीवन कैसे व्यतीत किया जाता है।

यह भी पढ़ें 👉  पूर्व प्रधानमंत्री की पुण्यतिथि पर काग्रेंसियो ने मरीजों को वितरित किए फल……

Leave a Reply