उत्तराखण्ड ज़रा हटके हल्द्वानी

टॉयलेट से निकले पानी से तालाब बना शुशीला तिवारी ब्लड वार्ड…..

ख़बर शेयर करें -

 

शोचालय चोक होने से एसटीएच के ग्राउंड फ्लोर में घुसा पानी

हल्द्वानी–(आरिश सिद्दीकी) कुमांऊ का सबसे बड़ा अस्पताल आज अपनी बदहाली पर आंसू बहा रहा है जी हाँ  आपको हम बताते है किस तरह से सुशीला तिवारी अस्पताल के ब्लड वार्ड में शोचालय से निकला गन्दा पानी भर गया यह पानी लगभग तीन दिनों से भर रहा है एक सफाई कर्मी इस पानी को निकालने में तो लगी है

यह भी पढ़ें 👉  सड़क हादसे में एक सिपाही की मौत, भोटिया पड़ाव चौकी पर था तैनात…..

परन्तु पानी है की रुकने का नाम नही ले रहा, ब्लड वार्ड एक सेंसेटिव वार्ड होता है बावजूद इसके अस्पताल प्रशासन इस तरफ गम्भीर नहीं है वीडियो में आप देख सकते है कि वार्ड में पानी भरा है और स्वास्थ्य कर्मचारी खून लेने और देने का कार्य कर रहे है इसे में संक्रमित होने का कितना बड़ा खतरा मरीजों और रक्त देने वालो पर है इसका अंदाजा लगायाजा सकता है पिछले तीन दिनों से वार्ड में आवाजाही हो रही है

यह भी पढ़ें 👉  लोकसभा सामान्य निर्वाचन में अधिक से अधिक मतदान के लिए समस्त विकासखंड़ों के मतदाताओ को किया गया जागरूक......

संक्रमण का खतरा लगातार बढ़ता नज़र आ रहा है आपको बता दे पिछले तीन दिनों से शोचालय का गन्दा पानी वार्ड में आ रहा है और अस्पताल प्रशासन सिर्फ मूक दर्शक की तरह देखता नज़र आ रहा है, वही डॉ विवेकानंद सत्यवली प्रभारी चिकित्साधिकारी का कहना है कि इंजीनियर और अस्पताल कर्मचारियों द्वारा लिकिज तलाश की जा रही है

यह भी पढ़ें 👉  नशे के विरुद्ध कार्यवाही करते हुए अभियुक्तता के कब्जे से बरामद किया गया6.390 किलोग्राम गांजा व इलेक्ट्रॉनिक तराजू......

परन्तु अभी तक लिकिज नहीं मिली है, संक्रमण को लेकर पूछे जाना पर डॉ सत्यवली के द्वारा कोई संतोषजनक जवाब नहीं दिया गया जबकि रक्त दान करते समय और रक्त चढ़ाते समय संक्रमण का अधिक खतरा होता है अब देखना होगा की अस्पताल प्रशासन किस तरह इस समस्या से अस्पताल को निजात दिलाता है

Leave a Reply