उत्तराखण्ड उधमसिंह नगर क्राइम

चार बच्चों की मां ने अपने से आधे उम्र के युवक से किया इश्क,दे डाली पति की सुपारी……..

ख़बर शेयर करें -

ऊधम सिंह नगर-प्यार अंधा होता है, अक्सर ये सुनने को मिलता है। ताजा उदाहरण ऊधम सिंह नगर जिले में देखने को मिला, जहां चार बच्चों की मां ने अपने से आधे उम्र के युवक से इश्क किया, इसके बाद प्यार की खातिर पति को हटाने के लिए शूटरों को 80 हजार की सुपारी दे डाली। खबर किच्छा स्थित एक निजी कॉलेज से जुड़ा है। जहां तैनात सुरक्षा गार्ड मौसमी लाल की जान उसकी पत्नी ही लेना चाहती थी। पुलिस और एसओजी की टीम ने पत्नी, प्रेमी और दोनों शूटरों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। फायरिंग में इस्तेमाल किए गए दोनों तमंचे भी बरामद कर लिए हैं।

 

 

शूटरों को 80,000 रुपये की सुपारी दी गई थी। एएसपी अपराध मनोज कुमार कत्याल ने घटना का खुलासा करते हुए बताया कि विगत 23 मई की रात 9:15 बजे खुरपिया गांव में अज्ञात लोगों ने सुरक्षा गार्ड मौसमी लाल को जान से मारने की नीयत से गोली मार दी। इस दौरान व गंभीर रूप से घायल हो गया। उसके भाई ललित कुमार की तहरीर पर केस दर्ज किया गया था। इसके बाद पुलिस गोली चलाने वाले बदमाशों की तलाश में जुट गई।

यह भी पढ़ें 👉  अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी डॉ जोगदण्डे ने पौडी़ में परखी चुनाव की तैयारियां......

 

 

इस घटना में पुलिस और एसओजी टीम ने सर्विलांस और सीसीटीवी फुटेज की मदद से मौसमी की पत्नी चंदा और जितेंद्र निवासी खुरपिया, युवराज और अभय ठाकुर निवासी बंडिया भट्टा को गिरफ्तार किया। पुलिस ने बताया कि मौसमी की पत्नी चंदा अपनी उम्र से 20 साल छोटे युवक से प्यार करती थी। फिर अपने आशिक के साथ मिलकर अपने ही पति की हत्या की साजिश रच डाली। चार बच्चों की मां ने खुद ही अपना परिवार तबाह कर लिया। बताया कि चंदा का शादी 20 साल पहले मौसमी के साथ हुई थी। उसकी एक बेटी और तीन बेटे हैं। बड़ा बेटा 16 वर्ष का है। बताया कि करीब सात साल पहले उसके घर के पास ही किराने की दुकान चलाने वाले जितेंद्र से इश्क करने लगी। इसके बाद दोनों की अक्सर दोनों मिलने लगे।

यह भी पढ़ें 👉  जनता को गुमराह करने का किया है काम, अजय भट्ट जनता को दें 5 साल का सांसद निधि का ब्यौरा- प्रकाश जोशी....

 

 

लेकिन यह बात पूरे गांव में फैलने गई। जब चंदा के पति को यह खबर लगी तो उनके घर में आये दिन विवाद होने लगा। ऐसे में सारी बातें चंदा अपने आशिक जितेंद्र को बताने लगी। पुलिस को एक मोबाइल मिला जिसके बारे में घर के सदस्यों को पता नहीं था। एएसपी ने बताया कि उसका गांव के ही जितेंद्र कुमार के साथ सात वर्ष से प्रेम प्रसंग चल रहा था। चंदा ने जितेंद्र से कहा कि कितने भी रुपये लग जाए मौसमी लाल को रास्ते से हटाना है।

यह भी पढ़ें 👉  कांग्रेस का प्रत्येक कार्यकर्ता अपने आप में स्टार प्रचारक-नीरज तिवारी...

 

 

जितेंद्र ने इसके लिए बंडिया निवासी युवराज सिंह उर्फ लूसिफर और अभय ठाकुर से बात कर 80 हजार रुपये में मौसमी लाल की हत्या करने की सुपारी दी। विगत 23 मई की रात उसने पति के साथ घूमने के लिए जाना और शूटरों का वहां पहुंचना तय कर लिया था। बताया कि चंदा ने टार्च की रोशनी से शूटरों को इशारा किया तब शूटर युवराज और अभय ठाकुर ने मौसमी लाल के पास जाकर गोली मार दी और फरार हो गए। लेकिन मौसमी घायल हो गया। जिसके बाद पत्नी की सारी हकीकत सामने आई और पुलिस ने गिरफ्तारी की कार्रवाई करते हुए चारों को जेल भेज दिया।

Leave a Reply