उत्तराखण्ड ज़रा हटके हल्द्वानी

हल्द्वानी-विद्युत विभाग के कनिष्ठ अभियंता की सड़क दुर्घटना में मौत……

ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी-रानीबाग विद्युत सबस्टेशन में तैनात विद्युत विभाग के कनिष्ठ अभियंता की सड़क दुर्घटना में मौत हो गई। पुलिस ने शव का पंचनामा भर शव परिजनों को सौंप दिया है। पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार धन सिंह बोरा पुत्र स्वर्गीय वीर सिंह बोरा उम्र 42 वर्ष निवासी हल्दूचौड़ जग्गी में रहते हैं। वह रानीबाग बिजली विभाग के सब स्टेशन में जेई के पद में तैनात थे। बताया कि रविवार शाम वह किसी समारोह में जा रहे थे।

 

उन्होंने अपने परिवार को समारोह में शामिल होने के लिए टेंपो से भेज दिया। थोड़ी देर बाद वह भी समारोह में शामिल होने के लिए स्कूटी से निकले। जैसे ही वह बेरीपड़ाव के पास पहुंचे कि किसी वाहन ने उन्हें टक्कर मार दी। टक्कर से वह सड़क किनारे गिर गए। तभी वहां से निकल रहे टेपों सवार ने उन्हें सड़क किनारे गिरा हुआ देखा। टेंपो वालों ने एंबुलेंस सेवा को फोन किया। तब तक लोगों ने परिजनों को भी फोन कर ​दिया। उधर सुशीला तिवारी पहुंचने पर डॉक्टरों ने धन सिंह को मृत घो​षित कर दिया। पुलिस ने सोमवार को शव का पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सौंप दिया है।

यह भी पढ़ें 👉  बनभूलपुरा दंगे में शामिल अब्दुल मलिक और उसके बेटे की संपत्ति की कुर्की, वीडियो ...

 

उक्त घटना से जहां हल्दूचौड़ क्षेत्र में शोक की लहर व्याप्त है, वहीं परिवार में कोहराम मचा हुआ है। हल्दूचौड़ पुलिस चौकी प्रभारी सोमेंद्र सिंह के अनुसार पुलिस ने सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचकर गंभीर रूप से घायल धन सिंह को एंबुलेंस द्वारा हल्द्वानी अस्पताल को भिजवाया, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। उन्होंने कहा कि जैसे ही मामले में तहरीर आएगी पुलिस उचित कार्रवाई करेगी, साथ ही धन सिंह के वाहन को टक्कर मारने वाले वाहन की तलाश में क्षेत्र के सीसीटीवी चेक किए जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  इग्नू का 37वाँ दीक्षांत समारोह 20 फ़रवरी 2024 को आयोजित होगा……

 

सड़क दुर्घटना में आकस्मिक मौत के शिकार बने विद्युत विभाग के कनिष्ठ अभियंता की पत्नी भी 2 वर्ष पूर्व कोरोना काल में दिवंगत हो गई थी, उनके परिवार में चार पुत्रियां एवं एक पुत्र यतीम हो चुके हैं, मां का साया सर से उठने के बाद पिता ने बच्चों को मां और बाप दोनों का प्यार दिया, परंतु नियति को यही मंजूर था पिता की भी अब असामयिक मौत हो गई, उक्त घटना ने पूरे परिवार के समक्ष भारी संकट खड़ा कर दिया है, उक्त ह्रदय विदारक घटना से जग्गी गांव के ग्रामीण भी स्तब्ध हैं।

Leave a Reply