उत्तराखण्ड ज़रा हटके नैनीताल

डीएसबी परिसर के एमएससी चतुर्थ सेमेस्टर वनस्पति विज्ञान के छात्र छात्राओं ने महत्पूर्ण जानकारी हासिल की……

ख़बर शेयर करें -

नैनीताल- डीएसबी परिसर के एमएससी चतुर्थ सेमेस्टर वनस्पति विज्ञान के छात्र छात्राओं  ने शैक्षिक भ्रमण के अंतर्गत मानसखंड विज्ञान केंद्र पांडेखोला अल्मोड़ा में  महत्पूर्ण जानकारी हासिल की ।  संस्थान के प्रभारी एमिरेट्स  साइंटिस्ट  तथा फेलो ऑफ नेशनल एकेडमी ऑफ साइंसेज पूर्व निदेशक एचएफआरआई शिमला डॉक्टर एसएस सामंत ने संस्थान की महत्पूर्ण जानकारी दी तथा बताया कि मानासखंड विज्ञान केंद्र का उद्घाटन इस वर्ष 20 मार्च को किया गया

यह भी पढ़ें 👉  मतदाता सूचियों) के विस्तृत पुनरीक्षण हेतु निर्धारित की गई समय सारणी…….

 

उन्होंने मानस खंड की महत्ता भी बताई।  संस्थान में विज्ञान केंद्र  एवम विज्ञान के रहस्य जानने के बाद परंपरागत औषधीय  पौध केंद्र में यूनानी ,आयुर्वेदिक ,पंचकर्म की जानकारी ली ,पर्वतीय क्षेत्र जैव विविधता केंद्र  में पौधो की विविधता  ,जलवायु परिवर्तर केंद्र में न्यूनीकरण,हिमनद ,पिंडारी ग्लेशियर ,तथा इसके प्रभाव की जानकारी हासिल की ,इनक्यूबेशन सेंटर  तारामंडल में सप्तऋषि ,ध्रुव तारा  ,तथा कहानियां भी जानी एवम आकाश मंडल की जानकारी हासिल की।

यह भी पढ़ें 👉  पौड़ी पुलिस ने गुम हुये फोन को सकुशल किया फोन स्वामी के सुपुर्द……

 

संस्थान में विद्यार्थियों  को विद्यार्थी ने ककड़ी घाट में शिव मंदिर में   पीपल का वृक्ष को भी देखा जिसमे 189o में स्वामी विवेकानंद ने ज्ञान प्राप्त किया था। विद्यार्थियों ने कैंची धाम स्थित मंदिर जिससे  नीम करौली महाराज द्वारा स्थापित किया के दर्शन भी किया तथा सभी के स्वस्थ रहने की काम न की।विभागाध्यक्ष प्रो एसएस बरगली के निर्देशन में आयोजित तथा प्रो ललित तिवारी के नेतृत्व में आयोजित इस शैक्षणिक भ्रमण में डॉक्टर नवीन पांडे ,डॉक्टर हिमानी कार्की ,जगदीश पपनाए ,गोपाल बिष्ट ,लता नितवाल ,श्रुति शर्मा ,कविता ,नीतेश ,अभिषेक , गुरुसाहिबा ,प्रीति ,शिवानी ,ऋचा , आदि विद्यार्थी शामिल रहे।

Leave a Reply