उत्तराखण्ड ज़रा हटके लालकुआं

वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने दी आंदोलन की चेतावनी, 70% रोजगार देने की उठाई मांग…..

ख़बर शेयर करें -

लालकुआं-खड़कपुर के ग्राम प्रधान और वरिष्ठ कांग्रेसी नेता शंकर जोशी ने बेरीपड़ाव स्थित एक निजी बैंकट हॉल में प्रेस वार्ता की इस दौरान उन्होंने डबल इंजन की सरकार में जन विरोधी नीतियों के तहत किए जा रहे कार्यों पर सरकार पर जमकर निशाना साधा। इसके अलावा स्थानीय उद्योगों में उत्तराखंड के मूल निवासियों को 70% रोजगार देने की उन्होंने जोरदार मांग उठाई। पत्रकारों से वार्ता करते हुए उन्होंने अपने प्रथम बिंदु में कहा कि स्थानीय सेंचुरी पल्प एंड पेपर मिल में वर्षों से कार्यरत मजदूरों के साथ मिल प्रबंधन अन्याय कर रहा है एवं उन्हें परमानेंट करने के बजाय बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है

यह भी पढ़ें 👉  गरमपानी और नैनीताल के जंगल में लगी आग......

 

वह उन सभी श्रमिकों के साथ हैं जिनके साथ मिल प्रबंधन द्वारा अन्याय किया जा रहा है। उन्होंने स्पष्ट किया है कि यदि मिल प्रबंधन बाहर किए गए मजदूरों को दोबारा नौकरी पर नहीं रखता है और उन्हें स्थाई श्रमिक के तौर पर भर्ती नहीं करता है तो वह 7 दिन के बाद मिल के गेट के समक्ष आंदोलन प्रारंभ करेंगे। इसके अलावा उन्होंने आईएसबीटी और शहीद मोहन नाथ गोस्वामी मिनी स्टेडियम के निर्माण नहीं किए जाने पर सरकार पर जमकर निशाना साधा और कहा कि जो सरकार शहीदों को सम्मान देने करने की बात करती है उस सरकार में ना तो मिनी स्टेडियम बन पा रहा है

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी- घर के पास खेलते-खेलते लापता हुए तीन दोस्त, सीसीटीवी में क्या दिखा.... 

 

और ना ही सैन्य मिलन केंद्र, उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि तत्कालीन हरीश रावत सरकार में चोरगलिया में बनाई गई आईटीआई को भी डबल इंजन की सरकार शुरू नहीं कर पाई है जिससे कि क्षेत्र के युवाओं के साथ खिलवाड़ हो रहा है। वही अघोषित विद्युत कटौती पर विद्यार्थियों से लेकर किसानों को हो रहे नुकसान पर उन्होंने सरकार से तत्काल विद्युत व्यवस्था दुरुस्त करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि यदि लालकुआं विधानसभा की ज्वलंत समस्याओं का त्वरित निस्तारण करने में डबल इंजन की सरकार असफल होती है तो वह कांग्रेस पार्टी के उच्च पदाधिकारियों से वार्ता कर जल्द ही सड़क से लेकर सदन तक चरणबद्ध तरीके से आंदोलन करने को बाध्य होंगे।

Leave a Reply