उत्तराखण्ड क्राइम रुद्रपुर

रुद्रपुर कृष्णा क्रिटिकल केयर सेंटर हॉस्पिटल का फिर आया एक बार और कारनामा सामने………..

ख़बर शेयर करें -

रुद्रपुर-रुद्रपुर डॉक्टर कॉलोनी गली नंबर 1 में एक कृष्णा क्रिटिकल केयर सेंटर के नाम से हॉस्पिटल है। जिसमे डॉ गौरव अग्रवाल और पारस अग्रवाल दोनों भाई डॉक्टर हैं आए दिन उस हॉस्पिटल ने विवाद बना रहता है। और मरीजों के साथ में बहुत बुरी दुर्दशा होती है पहले तो इलाज के नाम पर मोटी रकम ऐठ लेते हैं। और उसके बाद जब मरीज पूरी तरीके से निचोड़ लेते हैं तो कोई ना कोई बहाना लगा कर मरीज को रेफर करने की नई कहानी रख देते हैं।

यह भी पढ़ें 👉  पुलिस ने विदेश में नौकरी लगाने के नाम पर ठगी गई 3,50,000/- रू0 की धनराशि पीड़ित के खाते में वापिस लौटाकर, युवक के चेहरे पर लौटायी मुस्कान......

 

ऐसा एक बार नहीं हुआ है। और ऐसा हम नहीं कह रहे ऐसा यहां आने वाला हर एक मरीज और तीमारदार इस बात का सबूत है अगस्त के माह में एक पत्रकार की बेटी को एडमिट करने के बाद और काफी मोटी रकम लेने के बाद मरी हुई बेटी को बरेली रेफर कर देना उसके बाद रमपुरा का हिरण खेड़ा एक बच्चे को एडमिट करने के बाद उससे काफी मोटी रकम लेने के बाद उसके दिल में छेद होने के बाद कहते हुए। इस तरीके से उसे भी बरेली व दिल्ली के लिए रेफर कर दिया और रास्ते में वह बच्चा मर गया ऐसा ही एक मामला राम्पुरा का भी सामने आया।

यह भी पढ़ें 👉  रुद्रपुर वेयर हाउस से ई वीएम मशीने बगवाड़ा स्ट्रांग रूमो में की गई स्विफ्ट….. 

 

जिसमे एक व्यक्ति महामाई राज्यपाल की सभा में जाकर रोने लगा जिस पर पुलिस प्रशासन द्वार उसको वहां से हटाकर सेफ रूम ले जाकर उसकी बात सुनी गई। लेकिन ऊंची पहुंच होने की वजह से कृष्णा क्रिटिकल हॉस्पिटल के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई। अब ऐसा ही मामला दिनेशपुर से आए एक मरीज के साथ भी इसी तरीके की घटना सामने आई है।

Leave a Reply