उत्तराखण्ड ज़रा हटके हल्द्वानी

हल्द्वानी- एमबीपीजी में भिड़े छात्र, इधर प्राचार्य ने मांगी पुलिस…..

ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी- एमबीपीजी कॉलेज में शनिवार को बीए प्रथम सेमेस्टर में 102, बीकॉम में 43, बीएससी पीसीएम ग्रुप में 27, जेडबीसी में 36 विद्यार्थियों को प्रवेश दिए गए। कुल 208 छात्र-छात्राओं ने प्रवेश लिया। इस बीच प्रवेश फार्म जमा करने के दौरान दो छात्र आपस में भिड़ गए। छात्रों के बीच हुई तकरार मारपीट में बदल गई। माहौल बिगड़ने पर प्राचार्य ने पुलिस-प्रशासन से प्रवेश प्रक्रिया के समाप्त होने तक कॉलेज में पुलिसकर्मी तैनात करने की मांग की है।

यह भी पढ़ें 👉  बाबा नीम करोली स्थापना दिवस पर लगी भक्तों की लंबी लाइन…….

 

एमबीपीजी कॉलेज में शनिवार को प्रवेश के दौरान हुई झड़प के बीच दोनों छात्र एक-दूसरे पर आरोप लगाने लगे। छात्रों के बीच हुए विवाद को देख दाखिले के लिए पहुंचे कुछ छात्र-छात्राएं खिसक गए। सुरक्षा गार्ड के बाद दखल के बाद मामला शांत हुआ। इस दौरान छात्राओं ने कॉलेज का माहौल खराब करने वालों पर कार्रवाई की मांग उठाई। एमबीपीजी महाविद्यालय में प्रवेश प्रक्रिया में सुरक्षा व्यवस्था और छात्रों के हंगामे, प्रदर्शन, तालाबंदी आदि की आशंका को देखते हुए प्राचार्य ने पुलिस-प्रशासन से चार पुलिसकर्मियों की मांग की।

यह भी पढ़ें 👉  ‌श्रीमद देवी भागवत कथा का  सप्तम दिवस, श्रीमद् देवी भागवत चलता फिरता मानसरोवर है।

 

हालांकि उन्होंने कॉलेज परिसर में शनिवार को किसी भी प्रकार की मारपीट से इनकार किया है। बताया कि स्नातक प्रथम वर्ष की प्रवेश प्रकिया शुरू हो चुकी है। शनिवार को बीकॉम की वरीयता सूची में चयनित उन विद्यार्थियों को प्रवेश दिया गया जिन्होंने इंटरमीडिएट में 65 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त किए हैं। बीए में 70 प्रतिशत से अधिक अंक वाले विद्यार्थियों को प्रवेश दिया गया। 10 जून से प्रथम मेरिट लिस्ट में शामिल सभी विद्यार्थियों को प्रवेश दिया जाएगा। वहीं, इंदिरा प्रियदर्शिनी महिला महाविद्यालय में शनिवार को बीए में 43, बीकॉम में 12, बीकॉम ऑनर्स में 10, बीएससी पीसीएम ग्रुप में 25 और जेडबीसी वर्ग में 33 छात्राओं को प्रवेश मिला।

यह भी पढ़ें 👉  जिला कांग्रेस के पदाधिकारियों ने बहुचर्चित उद्यान विभाग घोटाले में कार्यवाही की मांग को दिया ज्ञापन.....

 

Leave a Reply