उत्तराखण्ड ज़रा हटके हल्द्वानी

मलिक के कारोबार में हर जगह झोल ही झोल, हर साल होती है 50 लाख की आय…..

ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी- हल्द्वानी हिंसा का मास्टरमाइंड फरार चल रहा है। पुलिस उसकी तलाश में है। मलिक की संपत्ती के बारे में भी पता लगाया जा रहा है। मिली जानकारी के अनुसार, अकेले हल्द्वानी में ही मलिक का अरबों का कारोबार है। आठ फरवरी की शाम बनभूलपुरा उपद्रव मामले में वांटेड चल रहा अब्दुल मलिक की सोच किसी साम्राज्यवादी सोच से कम नहीं है। रसूखदार मलिक का अकेले हल्द्वानी में ही अरबों का कारोबार है। अब नई बात सामने आ रही है

कि मलिक जिन शिक्षण संस्थाओं के माध्यम से हर साल करोड़ों कमा रहा था, उनमें एक शिक्षण संस्था मरियम कॉलेज है जहां के स्टाफ को छह माह से वेतन तक नहीं दिया गया है। मलिक की एक ऐसी संस्था भी है, जो रजिस्ट्रेशन खत्म होने के बाद भी चल रही है। यानी जहां कहीं भी कारोबार हुआ वहां किसी न किसी तरह की धोखाधड़ी (झोल) हुई। वांटेड मलिक का कमलुवागांजा में 16593.64 स्क्वायर फीट में मरियम कालेज ऑफ पैरामेडिकल एजुकेशन एंड हास्पिटल है।

वर्तमान में यहां 100 छात्र पढ़ रहे हैं। साढ़े तीन साल के डिग्री प्रोग्राम के लिए हर छात्र से करीब 50 से 60 हजार रुपया हर साल लिया जाता है। हिसाब देखा जाए तो प्रबंधन छात्रों से हर साल 50 लाख रुपये की मोटी कमाई कर रहा है। 18 से 20 कमरों के आलीशान शैक्षणिक संस्थान करीब 14-15 का स्टाफ भी है। स्टाफ से जानकारी ली तो पता चला कि सितंबर 2023 से किसी भी कर्मचारी को वेतन नहीं मिला है। 28 फरवरी से परीक्षाएं शुरू होने के कारण इस समय कॉलेज में छात्रों का अवकाश चल रहा है।

 

यह भी पढ़ें 👉  सीमा जौहर ने दीप प्रज्वलित कर किया योग शिविर का आयोजन.....

 

Leave a Reply