उत्तराखण्ड क्राइम हल्द्वानी

युवक की एसटीएच में संदिग्ध मौत, जेल से लाया गया था उपचार के लिए, पत्नी ने जेल प्रशासन पर लगाए गंभीर आरोप……

ख़बर शेयर करें -

जिस्म पर चोट के निशान,

हल्द्वानी। नैनीताल की जेल में बंद युवक की संदिग्ध हालत में सुशीला तिवारी अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। मृतक के शरीर पर चोट के निशान मिले हैं। मृतक की पत्नी ने जेल कर्मियों पर मारपीट का आरोप लगाया है।

 

 

किदवईनगर थाना बनभूलपुरा निवासी 32 वर्षीय फैसल पुत्र मस्तान एक साल पहले स्मैक तस्करी के मामले में नैनीताल जेल गया था। सात माह पहले स्वजन जमानत कराकर उसे बाहर ले आए। मृतक के ससुर नफीस अहमद ने बताया जेल से बाहर आने के बाद फैसल ने स्मैक का नशा करना शुरू कर दिया। 27 मई को फैसल के कहने पर वह उसकी जमानत तुड़वाकर दोबारा जेल में छोड़ आए।

यह भी पढ़ें 👉  सड़क हादसे में एक सिपाही की मौत, भोटिया पड़ाव चौकी पर था तैनात…..

 

 

मंगलवार को जेल प्रशासन ने सूचना दी कि फैसल की तबीयत खराब है और उसे हल्द्वानी सुशीला तिवारी अस्पताल में भर्ती किया है। नफीस का आरोप है कि जेल में उनके दामाद को बेरहमी से पीटा गया। उसके शरीर में चोट के निशान हैं। कपड़े भी खून से सने थे। आरोप है कि शुक्रवार की सुबह 10 बजे फैसल की मौत हो गई।

यह भी पढ़ें 👉  नैनीताल हाईकोर्ट का आदेश, डीएफओ के खिलाफ चार्जशीट पर रोक.....

 

 

मगर जेल प्रशासन ने उन्हें ढाई बजे सूचना दी। इधर, इस संबंध में जेलर से बात करने का प्रयास किया गया। लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो सका। ससुर नफीस अहमद ने बताया कि इस मामले में एसएसपी पंकज भट्ट से मुलाकात की जाएगी। जेल प्रशासन के खिलाफ नैनीताल थाने में तहरीर दी जाएगी।

Leave a Reply