उत्तराखण्ड ज़रा हटके रुद्रपुर

क्या कांग्रेस के दस विधायक पार्टी छोड़ने की तैयारी में, कांग्रेस में घमासान युद्ध स्तर पर आज हो सकती है कांग्रेस विधायक दल की बैठक,

ख़बर शेयर करें -

रुद्रपुर-(एम् सलीम खान) देहरादून में भी इस्तीफों का दौर जारी) देहरादून कांग्रेस में नेता प्रतिपक्ष और उत्तराखंड कांग्रेस कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष चुने जाने को लेकर विरोध शुरू हो गया है। पार्टी की अंदरुनी खेचतान खुल कर सामने आ गई है।इन पदों पर नियुक्तियों को संगठन व विधायकों दोनों में कड़ी नाराजगी खुल कर सामने आ गई है। सूत्रों की मानें तो कांग्रेस के आठ बड़े नेता और दस कांग्रेस विधायक पार्टी को छोड़ने का मन बना चुके हैं। यह खफा विधायक ने बुधवार को देहरादून में बैठक कर सकते हैं। हालांकि कांग्रेस संगठन और पदाधिकारी, विधायकों ने दलबदल की चर्चाओं को सिरे से खारिज कर दिया है।

 

यह भी पढ़ें 👉  क्षेत्र वासियों की लंबे समय से चली जा रही मांग को केंद्र सरकार ने दी स्वीकृति……

कांग्रेस हाईकमान ने उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव की करारी हार के बाद नेता प्रतिपक्ष और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष की तैनाती में लंबा समय लगा दिया। जिसके बाद बाजपुर विधायक और भाजपा छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए यशपाल आर्य को सदन का नेता प्रतिपक्ष और करन माहरा को उत्तराखंड कांग्रेस कमेटी का प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त कर दिया। जिसके बाद कांग्रेस की अंदरुनी कलह खुलकर सामने आ रही है। कांग्रेस पदाधिकारियों ने इससे खफा होकर इस्तीफे देना शुरू कर दिया है। नेता प्रतिपक्ष और कांग्रेस कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष और उप नेता सदन का चयन कुमाऊं से होने के बाद गढ़वाल मंडल में जबरदस्त गुस्सा है।

 

नेता प्रतिपक्ष के लिए प्रीतम सिंह, हरीश धामी, और राजेंद्र भंडारी जमकर दौड़े, लेकिन पार्टी हाईकमान ने यशपाल आर्य को इस पद के लिए चुना, जिसके बाद कांग्रेस के करीब दस विधयाको ने पार्टी के खिलाफ बगावत शुरू कर दी। बताया जा रही है कि दल बदलने वाले नेताओं को कांग्रेस तवाजो दे रही है। कांग्रेस कमेटी के संगठन प्रदेश मंत्री मथुरा जोशी का कहना है कि कांग्रेस एक बड़ा संगठन है, और नाराजगी भी होती है। लेकिन पार्टी छोड़कर कोई कही नहीं जा रहा है। इसके अलावा कांग्रेस प्रवक्ता गरिमा दसौनी का कहना है कि पहले नेता प्रतिपक्ष, और प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह थे। और अब बदलाव किया गया है। इससे कोई भी खफा नहीं है। चर्चा यह भी भी है कि कांग्रेस विधायक हरीश धामी भाजपा में शामिल होने का मन बना चुके हैं।

यह भी पढ़ें 👉  अब्दुल मालिक और मालिक की पत्नी पर प्रशासन ने कसा शिकंजा, मुकदमा दर्ज ,13 बीघा जमीन खुर्द-बुर्द का आरोप .....

 

धामी जल्द ही कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हो सकते हैं। यशपाल आर्य ने की प्रीतम से मुलाकात कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल होने की चर्चाओं के बीच कांग्रेस के नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य अचानक प्रीतम सिंह से मुलाकात करने पहुंचे, करीब दो घंटे तक दोनों नेताओं में बातचीत हुई।इस दौरान यशपाल आर्य ने प्रीतम सिंह के सामने में हाथ जोड़कर विनती की है। हालांकि इस बातचीत के अंश तो सामने नहीं आएं। लेकिन माना जा रहा है कि आर्य प्रीतम सिंह की नाराजगी को खत्म करने पहुंचे थे।

Leave a Reply