उत्तराखण्ड कोटद्वार ज़रा हटके

राजकीय पी जी कॉलेज कोटद्वार में दो दिवसीय स्टार्टअप बूट कैंप में दिया गया प्रशिक्षण……

ख़बर शेयर करें -

कोटद्वार- डॉ पीतांबर दत्त बड़थ्वाल हिमालयन राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय, कोटद्वार में उत्तराखण्ड सरकार की महत्वाकांक्षी “देवभूमि उद्यमिता योजना” के अंतर्गत आज दो दिवसीय स्टार्टअप बूट कैंप में छात्र-छात्राओं को उद्यमिता एवं स्टार्टअप शुरू कर अपना भविष्य संवारने का प्रशिक्षण दिया गया। बूट कैंप का शुभांरभ महाविद्यालय की प्राचार्य प्रोफेसर जानकी पंवार द्वारा मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलन तथा संगीत विभाग के छात्र-छात्राओं द्वारा सरस्वती वंदना के साथ किया गया।

 

इस अवसर पर महाविद्यालय की प्राचार्य प्रोफेसर जानकी पंवार ने बताया कि देवभूमि उद्यमिता योजना के क्रियान्वयन एवं सफल संचालन हेतु महाविद्यालय में उद्यमिता विकास केंद्र स्थापित किया गया है तथा वाणिज्य विभाग के प्राध्यापक डॉ० एस० के० गुप्ता को नोडल अधिकारी तथा  05 अन्य प्राध्यापको एवं 14 छात्र- छात्राओं को महाविद्यालय उद्यमिता केंद्र की टीम में सम्मिलित किया गया है। टीम के दो सदस्य डॉ० एस० के० गुप्ता एवं डॉ० मुकेश रावत द्वारा भारतीय उद्यमिता विकास संस्थान अहमदाबाद गुजरात में 6 दिवसीय फैकल्टी मेंटर डेवलपमेंट प्रोग्राम में प्रशिक्षण प्राप्त कर लिया गया है।

 

उन्होंने बताया कि दो दिवसीय बूट कैंप के पश्चात दिनांक 15 फरवरी 2024 से 12 दिवसीय उद्यमिता विकास कार्यक्रम ( EDP) भी महाविद्यालय में आयोजित होगा , जिसमें बूट कैंप में सम्मिलित हुए छात्र-छात्राओं में से 30 छात्र-छात्राओं का चयन करके प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। उन्होंने बताया कि महाविद्यालय को इस योजना के अंतर्गत उत्कृष्टता केंद्र बनाने का प्रयास किया जाएगा । उन्होंने कहा कि देवभूमि उद्यमिता योजना कोटद्वार क्षेत्र के आर्थिक विकास में कारगर सिद्ध होगी तथा महाविद्यालय के साथ-साथ अन्य स्थानीय युवा भी इस योजना से लाभान्वित होंगे

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी- सड़क हादसे में दो युवकों की मौत, तीन घायल.....

 

इस अवसर पर देवभूमि उद्यमिता योजना के महाविद्यालय नोडल अधिकारी डॉ० एस० के० गुप्ता ने बूट कैंप में आए हुए अतिथियों एवं विषय विशेषज्ञों का स्वागत करते हुए परिचय कराया। डॉ एस के गुप्ता ने स्टार्टअप बूट कैंप के औचित्य पर प्रकाश डालते हुए कहा कि इस दो दिवसीय बूट कैंप में कोटद्वार क्षेत्र की समस्याओं की पहचान करके उनके समाधान हेतु व्यावसायिक संभावनाओं, आइडिया निर्माण , उद्यमिता एवं स्टार्टअप विकास के के माध्यम से रोजगार के अवसरों की संभावनाओं एवं सरकारी योजनाओं तथा फंडिंग के बारे में छात्र-छात्राओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा।

 

डॉ गुप्ता ने बताया कि इस बूट कैंप में कोटद्वार स्थित भगवंत ग्लोबल विश्वविद्यालय एवं आई एच एम एस इंस्टीट्यूट के छात्र-छात्राओं द्वारा भी प्रतिभाग किया जा रहा है । उन्होंने कहा कि कोटद्वार एवं आसपास के क्षेत्र के युवाओं को उद्यमिता, स्टार्टअप , कौशल विकास तथा स्वरोजगार हेतु जागरूक एवं प्रोत्साहित करने हेतु यह योजना मील का पत्थर साबित होगी। इस अवसर पर महाविद्यालय के वरिष्ठ प्राध्यापक प्रोफेसर एम डी कुशवाहा ने बताया कि महाविद्यालय में देवभूमि उद्यमिता योजना के शुरू होने से महाविद्यालय ही नहीं बल्कि निकटवर्ती क्षेत्र के युवाओं में भारी उत्साह है

यह भी पढ़ें 👉  कोटद्वार में भटक रही मध्य प्रदेश की 02 महिलाओं व एक नाबालिक बालिका को “ऑपरेशन स्माइल” टीम ने सकुशल किया परिजनों के सुपुर्द……

 

उन्होंने छात्र-छात्राओं को नौकरी के साथ-साथ उद्यमिता एवं स्टार्टअप पर भी ध्यान देने के लिए प्रेरित किया। इस दो दिवसीय बूट कैंप में भारतीय उद्यमिता विकास संस्थान, अहमदाबाद , गुजरात से  विषय विशेषज्ञ के रूप में आये डॉ दीपक चौहान द्वारा उद्यमिता एवं  स्टार्टअप से संबंधित विभिन्न विषयों पर गहन जानकारी दी गई। डॉ दीपक चौहान के द्वारा उत्तराखण्ड के स्थानीय युवाओं एवं छात्रों में प्रतिभा व कौशल की खोज करने , उद्यमिता और स्टार्टअप के प्रति जागरूकता बढ़ाने,  उद्यमिता हेतु फंडिंग उपलब्ध करवाने,

 

उद्यमिता आइडियाज, वेबसाइट मॉडल कैनवास , वैल्यू प्रपोजिशन , ब्रांडिंग, मार्केटिंग, रिसोर्स जेनरेशन, स्टार्टअप एडवेंचर आदि पर भी विस्तार से चर्चा की गई एवं विभिन्न गतिविधियों के माध्यम से प्रशिक्षण दिया गया। कार्यक्रम में कोटद्वार क्षेत्र के युवा उद्यमी श्री शैवाल रावत ने अपने उद्यम से संबंधित अनुभवों पर विस्तार से चर्चा की। इस अवसर पर भगवंत ग्लोबल विश्वविद्यालय के देवभूमि उद्यमिता नोडल डॉ० हर्षित शर्मा , आई एच एम एस इंस्टीट्यूट के उद्यमिता नोडल डॉ नवीन किशोर एवं महाविद्यालय उद्यमिता केंद्र की टीम के सदस्य डॉ किशोर सिंह चौहान, डॉ मुकेश रावत द्वारा भी उद्यमिता एवं स्टार्टअप पर अपने विचार व्यक्त किए गए कार्यक्रम का सफल संचालन हिंदी विभाग प्रभारी डॉक्टर शोभा रावत द्वारा किया गया

यह भी पढ़ें 👉  पुलिस का नशे के विरुद्ध अभियान जारी, 100 नशीले इंजेक्शन के साथ दो अभियुक्त गिरफ्तार.....

 

तथा कार्यक्रम में महाविद्यालय उद्यमिता केंद्र के सदस्य डॉ सुनीता नेगी , डॉ प्रियंका अग्रवाल संगीत विभाग प्रभारी डॉ चंद्रप्रभा भारती, समाजशास्त्र विभाग प्रभारी डॉ संदीप कुमार, डॉ श्रद्धा , डॉ अंशिका बंसल , डॉ विमल त्यागी , डॉ संदीप अग्रवाल छात्र संघ अध्यक्ष श्री अभिषेक अग्रवाल, आई एच एम एस इंस्टीट्यूट से डॉ प्रदीप भट्ट , डॉ सिद्धांत नौटियाल आदि प्राध्यापक मौजूद रहे। इस बूट कैंप में प्रथम दिवस लगभग 250 छात्राओं द्वारा प्रशिक्षण प्राप्त किया गया। बूट कैंप में देवभूमि उद्यमिता केंद्र , कोटद्वार  के छात्र सदस्यों अभिषेक नेगी, गौरव सिंह नेगी, स्वर्णिम रावत, प्रज्वल बिष्ट ,आयुष कुमार , ध्रुव कुकरेती , क्षितिज नेगी आदि ने व्यवस्था बनाने एवं अन्य कार्यों में महत्वपूर्ण सहयोग दिया।

Leave a Reply