उत्तराखण्ड ज़रा हटके रुद्रपुर

भारत के उप राष्ट्रपति श्री जगदीप पहुंचे धनखड़ पंतनगर एयरपोर्ट …..

ख़बर शेयर करें -

रुद्रपुर- गुरूवार को भारत के उप राष्ट्रपति श्री जगदीप धनखड़ पंतनगर एयरपोर्ट पहुंचे। जहां उत्तराखण्ड के राज्यपाल व विवि  के कुलाधिपति लेफ्टिनेंट जनरल (रिटा.) गुरमीत सिंह तथा कुलपति डॉ. मनमोहन सिंह चौहान, जिलाधिकारी उदयराज सिंह ने उप राष्ट्रपति का स्वागत किया। इसके उपरांत उप राष्ट्रपति  तराई भवन पहुंचे जहाँ पर उन्होंनेें अपनी धर्मपत्नी डॉ. (श्रीमती) सुदेश धनखड़ के साथ  चंदन का पौधारोपण किया। इसके बाद उप राष्ट्रपति महोदय ने नाहेप भवन में लगाये गये कृषि उत्पाद स्टालों का निरीक्षण किया

 

व कृषि संग्रहालय का भ्रमण किया। उप राष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने पंतनगर विवि के कृषि संग्रहालय का भ्रमण कर विवि के छह दशक की पूरी गाथा जानी व  विवि की स्थापना, हरित क्रांति को इतिहास से जुड़ी  तस्वीरों और दस्तावेजों के माध्यम से जाना। कृषि महाविद्यालय के डीन डॉ. शिवेंद्र कुमार ने उप राष्ट्रपति को संग्रहालय की विशेषताएं बताई। संग्रहालय देख उप राष्ट्रपति काफी प्रभावित हुऐ। उप राष्ट्रपति महोदय ने संग्रहालय की तारीफ की। उप राष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने पंतनगर कृषि विवि के  संग्रहालय का भ्रमण करने के बाद मीडिया से मुखातिब होते हुए कहा कि बदलते परिवेश में किसान अपने को तकनीकी रूप से आगे बढ़ायें ।

यह भी पढ़ें 👉  मां भद्रकाली दिव्य देव डोली का स्थापना दिवस विधि विधान के साथ संपन्न......

 

उन्होंने कहा कि बढ़ती हुई अर्थव्यवस्था में किसानों को अपना योगदान देना है तो किसानों  को तीन बातों के लिए वचनबद्ध होना पड़ेगा। किसानों को कृषि के साथ ही कृषि उद्योगों से जुड़ना होगा। किसान अपना उत्पाद तुरंत बेच देते हैं, जिससे उनको उपज का उचित मूल्य नहीं मिल पता है और उन्हें आर्थिक रूप से नुकसान उठाना पड़ता है। इसलिए ज्यादा से ज्यादा फायदा लेने के लिए वेयर हाउसिंग बनाने की सलाह दी। उन्होंने कहा  यह देखा जाता है कि किसान दूध और छाछ तक ही सीमित रहता है,

यह भी पढ़ें 👉  जोशीमठ का नाम ज्योर्तिमठ किये जाने पर खुशी की लहर.......

 

अब समय आ गया है कि दूध से आइस क्रीम, पनीर व सभी प्रकार के  दुग्ध उत्पाद तैयार कर बाजार में बेचें। उन्होंने कहा कि किसानों को आय बढ़ाने के लिए कृषि उत्पादों की ब्रैंडिंग, पैकेजिंग कर संगठित बाजार व  क्लस्टरों से जुड़ना होगा ताकि वे अधिक से अधिक लाभ उठा सकें । उन्होंने कहा कि कृषकों के योगदान से ही भारत 2047 तक विकसित राष्ट्र होगा। इस दौरान विवि के कुलपति डॉ. मनमोहन सिंह चौहान, जिलाधिकारी उदयराज सिंह, एसएसपी मंजूनाथ टीसी, सीडीओ मनीष कुमार, पुलिस अधीक्षक क्राइम चंद्रशेखर घोड़के,  अपर जिलाधिकारी अशोक कुमार जोशी, उपजिलाधिकारी मनीष बिष्ट, कौस्तुभ मिश्र, रविन्द्र जुवांठा, गौरव पांडे, नगर उपायुक्त शिप्रा जोशी, मुख्य उद्यान अधिकारी भावना जोशी, प्रोबेशन अधिकारी व्योमा जैन, शोध निदेशक डॉ. अजीत सिंह नैन, सीजीएम फार्म डॉ. जयंत सिंह आदि मौजूद थे।   –

Leave a Reply