उत्तराखण्ड ज़रा हटके लालकुआं

उत्तराखंड बेरोजगार संगठन ने दी अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन की चेतावनी………

ख़बर शेयर करें -

लालकुआं-गौला नदी से खनन सामग्री का ढुलान करने वाले डंपर एवं टैक्टर ट्राली का फर्जी इंश्योरेंस करने के मामले में अगस्त 2022 में दर्ज हुए धोखाधड़ी के मुकदमे में दो लोगों की गिरफ्तारी के बाद अब मामला अब ठंडे बस्ते में पढ़ता दिखाई दे रहा है, जिससे नाराज़ होकर क्षेत्र के तमाम खनन व्यवसाईयों एवं उत्तराखंड बेरोज़गार संगठन के पदाधिकारियों में गहरा असंतोष व्याप्त है।

 

उत्तराखंड बेरोजगार संगठन के प्रदेश अध्यक्ष एवं उत्तराखंड राज्य आंदोलनकारी प्रकाश उत्तराखंडी ने गहरी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा है कि यदि अविलंब फर्जी इंश्योरेंस मामले में पुलिस प्रशासन ने खनन से जुड़े बड़े रसूख़दारों जिन्होंने अपने चार पहिया वाहनों का स्कूटर एवं मोटरसाइकिल के नाम से फर्जी इंश्योरेंस करा कर सरकार को लाखों रुपए का राजस्व का चूना लगाया हैं के खिलाफ सख्त कार्रवाई करवाने के लिए कमर कस ली है। उन्होंने कहा कि फंड फर्जी इंश्योरेंस कराने वाले चाहे वह गौला खनन संघर्ष समिति के पदाधिकारी ही क्यों ना हो एवं तमाम रसूखदार खनन माफियाओं के खिलाफ सख्त कार्रवाई करते हुए ऐसे जालसाजों को बेनकाब किया जाए।

यह भी पढ़ें 👉  पेट दर्द की समस्या लेकर अस्पताल आई युवती, मृत भ्रूण को दिया जन्म…...

 

इधर गौला खनन संघर्ष समिति के अध्यक्ष रमेश जोशी (ग्राम प्रधान) का कहना है कि पूर्व में जो भी हुआ हो उसे खत्म करते हुए भविष्य में सख्ती करने की आवश्यकता है। वही उक्त जालसाजी के मुकदमे की तफ्तीश कर रहे हल्दूचौड़ पुलिस चौकी प्रभारी सोमेंद्र सिंह ने कहा कि मामले में 2 लोगों की गिरफ्तारी के बाद कई और लोगों के नाम प्रकाश में आए हैं, जल्द ही उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा, वर्तमान में पुलिस उनके खिलाफ साक्ष्य संकलन की कार्रवाई कर रही है,

यह भी पढ़ें 👉  कांग्रेस की मुश्किलें नहीं हो रही कम, जिला पंचायत अध्यक्ष ने पार्टी से इस्तीफा दिया, कांग्रेस प्रत्याशी प्रकाश जोशी पर भी आरोप.....

 

उन्होंने कहा कि फर्जी इंश्योरेंस मामले में शामिल खनन व्यवसाईयो के खिलाफ कार्रवाई करते हुए उन्हें सलाखों के पीछे पहुंचाया जाएगा, भले ही वह गौला संघर्ष समिति का पदाधिकारी ही क्यों ना हो। विदित रहे कि गौला नदी में लगभग साढे 7 हजार डंपर एवं ट्रैक्टर ट्राली पंजीकृत है, उनमें से कुछ वाहन स्वामियों ने सरकार को लाखों का चूना लगाते हुए खनन वाहन के बजाय स्कूटर या मोटरसाइकिल का इंश्योरेंस करा कर उसे खनन वाहन में फर्जी रूप से दर्शा दिया,

यह भी पढ़ें 👉  मुख्तार को श्रद्धांजलि देने गाजीपुर पहुंचे अखिलेश यादव.....

 

इस मामले का खुलासा आरटीआई द्वारा किया गया और मामले में धोखाधड़ी के तहत मुकदमा दर्ज हुआ, तथा 2 लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है। पुलिस का दावा है कि जल्द ही मामले में अगली कार्रवाई करते हुए कुछ और वाहन स्वामियों की गिरफ्तारी जल्द की जाएगी। इधर उत्तराखंड बेरोजगार संगठन के प्रदेश अध्यक्ष एवं राज्य आंदोलनकारी प्रकाश उत्तराखंडी ने चेतावनी दी है कि यदि फर्जी इंश्योरेंस कराने वाले रसूखदारों के खिलाफ सख्त कार्रवाई नहीं हुई तो वह लालकुआं तहसील में अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन शुरू कर देंगे।

Leave a Reply