उत्तराखण्ड काशीपुर क्राइम

पुलिस ने एक करोड़ रुपए की स्मैक बरामद कर अभियुक्त को किया गिरफ्तार…..

ख़बर शेयर करें -

काशीपुर- वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मंजूनाथ टी सी ने आज काशीपुर कोतवाली में खुलासा करते हुए बताया कि स्मैक के कारोबार की सूचना मिलने पर  ढेला पुल के पास चैकिंग के दौरान सुल्तान खां पुत्र स्व0 मन्ने खां उम्र 40 वर्ष निवासी वार्ड नंबर 8 डॉक्टर दिल्ली वालों के पास मौ0 थाना साबिक बांसफोड़ान थाना काशीपुर हाल पता मौ0 काली बस्ती अल्ली खां बांसफोड़ान थाना काशीपुर को पकड़ा । तलाशी में उसके पास  एक किलो 24 ग्राम अवैध स्मैक बरामद हुई। पुलिस ने एनडीपीएस एक्ट के तहत पंजीकृत कर अभियुक्त को न्यायालय में पेश करने की कार्रवाई की जा रही है।

 

गिरफ्तार अभियुक्त ने पूछताछ पर पुलिस को बताया कि वह बिजली मिस्त्री है घरेलू पारिवारिक जिम्मेदारी के कारण ज्यादा आर्थिक बोझ पड़ जाने के कारण उसे पैसे की काफी जरुरत थी । वह कम समय में ज्यादा पैसा कमाना चाहता था इसी लालचवश वह छुटपुट स्मैक का काम करने लगा । वह स्मैक तस्कर रेशमा को पूर्व से जानता था । कुछ समय पूर्व जब पुलिस ने रेशमा के लिये स्मैक सप्लाई करने वाले तस्कर अमरुद्दीन को स्मैक में जेल भेजा तो उसके बाद वह रेशमा से मिला ।

यह भी पढ़ें 👉  आर्मी पब्लिक स्कूल लैंसडौन की अध्यापिका गोल्ड मेडल से सम्मानित....

 

रेशमा ने उसे अमरुद्दीन के जेल जाने तथा उसके लिये बड़ी मात्रा में काम करने तथा इसके एवज में कम समय में ज्यादा पैसा कमाने का लालच दिया। लालचवश उसे रेशमा से हामी भर दी तथा बड़े पैमाने पर स्मैक बरेली से काशीपुर लाने लगा बरेली से स्मैक लाकर वह उस स्मैक को रेशमा के कहने पर काशीपुर क्षेत्र में अलग-अलग लोगो को बेचता था। बीते रोज भी वह रेशमा के कहने पर वह  दूसरी ड्रग्स पैडलर शमीमजहां पत्नी मौ0 जुनैद उर्फ बबलूढोडी व उसके बेटे अनस निवासी काशीपुर से उसके घर के पास से ली थी।

यह भी पढ़ें 👉  पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत पहुँचे रुद्रपुर, भाजपा जिला कार्यालय पर हुआ ज़ोरदार स्वागत....

 

जिसे उसने काशीपुर एवं कुण्डा क्षेत्र में अलग-अलग लोगो को सप्लाई करना था । अनस और शमीमजहां भी काशीपुर से स्मैक में पहले जेल जा चुके है । यह स्मैक रेशमा ने फतेहगंज बरेली से अनस के हाथों शमीमजहां को भिजवायी थी मुझे किस आदमी को देना है यह मुझे रेशमा ने फोन करके मुझे काशीपुर पहुंचने पर बताना था । जब तक मैं इस स्मैक को आगे देता तब तक पुलिस ने पकड़ लिया । इस मामले में प्रकाश में आये अन्य अभियुक्तों में रेशमा पत्नी मौ0 अजहर निवासी पुष्प विहार कालोनी काशीपुर हाल काशीपुर हाल फतेहगंज तह0 मीरगंज बरेली उत्तर प्रदेश,शमीमजहां पत्नी मौ0 जुनैद उर्फ बबलूढोडी निवासी काली बस्ती मौ0अल्लीखां थाना काशीपुर,अनस पुत्र जुनैद उर्फ बबलूढोडी शामिल हैं।

यह भी पढ़ें 👉  विधायक शिव अरोरा की कार्यकुशलता को दे, भाजपा ने अल्मोड़ा लोकसभा सीट के लिये बनाया पर्यवेक्षक......

 

गिरफ्तार अभियुक्त के आपराधिक इतिहास खंगाला जा रहा है। एस एस पी ने बताया कि रेशमा शातिर स्मैक तस्कर है।कुख्यात स्मैक तस्कर रेशमा का आपराधिक इतिहास बताते हुए उन्होंने बताया कि उसके खिलाफ एनडीपीएस के छह मुकदमे पहले ही दर्ज हैं। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने पुलिस टीम को ढाई हजार रुपए तथा डीआईजी ने पांच हजार रुपए का पुरस्कार दिया है। इस बड़ी कामयाबी में क्षेत्राधिकारी बाजपुर  भूपेन्द्र भंडारी,प्रभारी निरीक्षक मनोज रतूड़ी काशीपुर वरि0उ0नि0 प्रदीप मिश्रा ,थानाध्यक्ष झनकईयां रविन्द्र बिष्ट,उ0नि0 सुनील सुतेड़ी,उ0नि0 नवीन बुधानी,उ0नि0 देवेन्द्र सामंत,का0 अनिल कुमार ,का0दीपक कुमार,का0 सुरेन्द्र सिंह,एसपीओ माजिद,एसपीओ हरजीत सिंह शामिल थे।

Leave a Reply