उत्तराखण्ड ज़रा हटके रुद्रपुर

जिलाधिकारी ने स्वच्छ विद्यालय पुरस्कार वितरण कार्यक्रम में किया प्रतिभाग…

ख़बर शेयर करें -

रुद्रपुर-जिलाधिकारी युगल किशोर पन्त गुरुवार को जेसीज पब्लिक स्कूल में आयोजित स्वच्छ विद्यालय पुरस्कार वितरण कार्यक्रम में प्रतिभाग किया। जिलाधिकारी एवं विधायक शिव अरोरा ने संयुक्त रूप कार्यक्रम का दीप प्रज्वलित कर शुभारंभ किया। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने कहा कि विगत कई वर्षों से स्वच्छता पर सिर्फ जनपद या राज्य ही नही बल्कि पूरे राष्ट्रीय स्तर पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। प्रायः देखा जा रहा है

 

कि अपने घरों में तो साफ-सफाई बहुत अच्छे से रखते है, परन्तु अन्य सामाजिक स्थल पर हमारा योगदान घरों की तरह नही होता। जिस कारण हमारे क्षेत्र, जनपद, राज्य में स्वच्छता अच्छे से नही हो पाती है। इस कार्य को बड़े स्तर पर पहले से और अधिक बेहतर करने के लिए प्रयास करना होगा। जैसे कि हम अपने विद्यालयो को किस प्रकार साफ-सफाई, स्वच्छ पेयजल, शौचालय आदि की व्यवस्था बेहतर हो सके। इसके लिए विद्यालय के बच्चों, शिक्षको एवं विद्यालय के अन्य स्टाॅफ को प्रेरित करने के लिए स्वच्छ विद्यालय पुरस्कार की अवधारणा निर्धारित की गयी थी।

यह भी पढ़ें 👉  पीसीएस अफसर ने घर में फंदे से लटककर दी जान......

उन्होने हर्ष व्यक्त करते हुए कहा कि मुझे बहुत प्रशंसा हो रही है कि हमारे जनपद के दो विद्यालय राष्ट्रीय स्तर पर पुरूस्कृत होने जा रहे है। उन्होने कहा कि हम सब छोटे-छोटे प्रयास से अपने विद्यालय के परिसर, शहर, जनपद, राज्य एवं अपने देश को स्वच्छ रख सकते है। इसके लिए हमे अपने अवधारणा को बदल कर सिर्फ मेहनत करने की आवश्यकता है। उन्होने कहा कि मुझे सिर्फ आशा ही नही अपितु पूर्ण विश्वास है

 

कि जिन विद्यालय को आज यहां पुरूस्कृत किया जायेगा उनसे अन्य विद्यालय भी प्रोत्साहित होगें तथा अपने-अपने विद्यालयों के परिसरों को स्वच्छ रखेंगे और एक सन्देश बच्चों के माध्यम से घरों तक जायेगा कि स्वच्छता आज विकास के दौर में सबसे अहम पहलू जिसे हमे पूरा करना है। इस दौरान विधायक शिव अरोरा ने कहा कि स्वच्छ विद्यालय पुरस्कार में हमारे जनपद के दो विद्यालयों का राष्ट्रीय स्तर पर चयन होना कोई सामान्य बात नही है यह बहुत ही सम्मान की बात है हमार जनपद के लिए। उन्होने कहा कि जिन विद्यालयों का जनपद स्तर पर भी चयन हुआ है वे भी बाधाई के पात्र है।

यह भी पढ़ें 👉  सड़क हादसा: युवक को बचाने के चक्कर में गिरी बाइक, दंपती और छोटे भाई की मौत......

 

उन्होने कहा कि विद्यालय का कार्य सिर्फ शिक्षा देना ही नही बल्कि बच्चों में समग्र विकास करना है, हमे अपनी अवधारणा बदलनी होगी। उन्होने कहा कि हम सिर्फ शिक्षा से एक बेहतर डाॅक्टर, इन्जिनियर, वैज्ञानिक, व्यापारिक तो बना सकते है किन्तु शिक्षा के साथ संस्कार भी दें तो हम एक बेहतर इंसान बना सकते है जो एक बेहतर राज्य व देश के निर्माण में अपना सहयोग देगा। उन्होने कहा कि आज हमारे देश को एक बेहतर इंसान की आवश्यकता है जो अच्छे संस्कार के माध्यम से सामाजिक और मानवीय संवेदनाओं के साथ समाज को आगे बढ़ाने का कार्य करें।

 

उन्होने कहा कि संस्कार हमारे जीवन का अभिन्न अंग है और स्वच्छता हमारे संस्कार का एक महत्वपूर्ण अंग है। उन्होने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े लोगों का यह दायित्व और अधिक बढ़ जाता है कि वह अच्छी शिक्षा के साथ-साथ विद्यार्थियों को अच्छे संस्कार भी दें। स्वच्छ विद्यालय पुरस्कार कार्यक्रम में मुख्य श्रेणी में चयनित विद्यालयें में रूद्रपुर ब्लाॅक के ग्रामीण क्षेत्र में दिल्ली पब्लिक स्कूल, प्रा0वि0 महाराजपुर, प्रा0वि0 गंगापुर, रा0ई0का0 बरा, आरऐएन पब्लिक स्कूल, शहरी क्षेत्र में सांई पब्लिक स्कूल खड़कपुर, पीआरबीएचएस ऐकेडमी नगर काशीपुर प्रधानाचार्य को सम्मानित किया गया। उप श्रेणी में चयनित विद्यालयों में ग्रामीण क्षेत्र के दिल्ली पब्लिक स्कूल, सेंट मेरीज सिनियर सेकेण्डरी स्कूल, प्रा0वि0 महाराजपुर, प्रा0वि0 गंगापुर, उच्च प्रा0वि0 बिडौरा, आरऐएन पब्लिक स्कूल,

यह भी पढ़ें 👉  कुमाऊं मीडिया प्रभारी नीरज तिवारी के आवास में कांग्रेस की विशाल जनसभा......

 

केन्द्रीय विद्यालय खटीमा, प्रा0वि0 बांसखेड़ा कलां, जीजीएचएस हरिदासपुर एवं रामनिवास सरस्वती अग्रवाल एसएसएम पीएमवी नगला तथा शहरी क्षेत्र में जीएचएस किच्छा, लिटिल किंगडम प्रीपेटरी स्कूल रूद्रपुर, पीएस कोलम्बस सेकेण्डरी पब्लिक स्कूल, क0जू0हा0 स्कूल किच्छा, श्री कृष्णा मर्चेन्ट, प्रा0वि0 आजाद नगर, पीआबीएचएस ऐकेडमी नगर काशीपुर, प्रा0वि0 सितारगंज एवं कविता माॅर्डन जूनियर हाई स्कूल को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर सचिव जेपीस सुरजीत सिंह ग्रोवर, मुख्य शिक्षा अधिकारी आरसी आर्या, खण्ड शिक्षा अधिकारी डॉ गुंजन अमरोही, जिला परियोजना कार्यालय, समग्र शिक्षा के समस्त अधिकारी एवं विभिन्न विद्यालायों के प्रधानाचार्य व शिक्षक आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply