उत्तराखण्ड ज़रा हटके पोड़ी

प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के नारी वंदन कार्यक्रम के तहत होने वाले दिशा ध्याणी कार्यक्रम की तैयारियां अन्तिम दौर में…..

ख़बर शेयर करें -

पौड़ी- प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के जिला मुख्यालय में  नारी वंदन कार्यक्रम के तहत होने वाले दिशा ध्याणी कार्यक्रम की तैयारियां अन्तिम दौर में है। रांसी स्टेडियम से कार्यक्रम स्थल कंडोलिया मैदान तक मुख्यमंत्री का रोड शो होगा। इस दौरान मा. मुख्यमंत्री विभिन्न विकास योजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास करने के साथ ही जन सभा को संबोधित करेंगे। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी 3 फरवरी को पौड़ी पहुंच रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  नजर आया बकरीद का चांद, 17 जून को देशभर में मनाई जायगी बकरीद .....

 

सीएम देहरादून से हेलीकॉप्टर से आयेंगे। यहां उनका हेलिकॉप्टर रांसी स्टेडियम में उतरेगा। यहां से वह जनता के साथ कार्यक्रम स्थल कंडोलिया मैदान पहुँचेगे।  जिला अधिकारी डा आशीष चौहान ने बताया कि मुख्यमंत्री रांसी स्टेडियम का लोकार्पण करने के साथ ही दिवंगत  जनरल बिपिन रावत की प्रतिमा का अनावरण करेंगे। कार्यक्रम में भीमल पेंटिंग की होगी प्रदर्शनी कार्यक्रम स्थल में विभिन्न विभागों के 16 स्टाल लगाए जाएंगे। दो लाइव स्टॉल में भीमल पेंटिंग, पिरुल व खजूर से क्रॉफ्ट निर्माण, मथनी से मठ्ठा निकालने और जांदरा व ओखली का प्रदर्शन किया जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  मतदाता सूचियों) के विस्तृत पुनरीक्षण हेतु निर्धारित की गई समय सारणी…….

 

इसके अलावा सिलक्यारा टनल रेस्क्यू, जी-20 और बीटल्स फेस्टिवल फोटो प्रदर्शनी भी लगाई जाएगी। सीएम करेंगे कन्या पूजन पौड़ी। कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी  नौ कन्याओं का पूजन करेंगे। यह कार्यक्रम बाल विकास विभाग और शिक्षा विभाग की ओर से संयुक्त रूप से आयोजित होगा। इसके साथ ही एक महिला की गोद भराई और शिशु का अन्नप्राशन संस्कार भी होगा।

यह भी पढ़ें 👉  अवैध कच्ची शराब के कारोबारियों के विरुद्ध अभियान के तहत थाना पुलभट्टा क्षेत्र से  100 पाउच कच्ची शराब एक अभियुक्त गिरफ्तार.......

 

ट्रैफिक प्लान तैयार सीएम धामी के कार्यक्रम के दौरान लोगों को दिक्कत न हो, इसकेे लिए  रूट प्लान तैयार किया गया है। कार्यक्रम में आने वाले लोगों के लिए पार्किंग की व्यवस्था ल्वाली मार्ग और नागदेव मार्ग पर होगी। साथ ही श्रीनगर से आने वाले वाहनों के आवागमन के लिए गडोली-डांडापानी मार्ग का प्रयोग होगा।

Leave a Reply