उत्तरप्रदेश क्राइम

पति की तेरहवीं पर भाई ने संपति बंटवारे को लेकर भाभी और भतीजी की बेरहमी से कर दी हत्या………

ख़बर शेयर करें -

उत्तर प्रदेश-उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ जनपद के थाना गौंडा इलाके के गांव कैमथल से बेहद ही दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां देवरों ने अपने भाई की तेरहवीं कार्यक्रम के दौरान संपति बंटवारे को लेकर अपनी भाभी और भतीजी की बेरहमी से हत्या कर दी। बताया जा रहा है कि प्रॉपर्टी बंटवारे को लेकर शुरू हुई।

 

कहासुनी देखते ही देखते खूनी संघर्ष में बदल गई। तीन नामज़द देवरों ने मां-बेटी को लाठी-डंडों से पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया. यह जानकारी एसएसपी कलानिधि नैथानी ने दी है। हालांकि ग्राम प्रधान ने मां-बेटी की गोली मारकर हत्या करना बताया है।

 

इस बीच पुलिस व फॉरेंसिक टीम ने मौके से साक्ष्य एकत्रित कर दोनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. दोनों की हत्या गोली मारने या पीटने से हुई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में स्पष्ट हो जाएगा. फिलहाल आरोपियों की तलाश में पुलिस दबिश दे रही है. कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ जारी है

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी- युवकों ने दोस्त पर किया जानलेवा हमला: फिर फोड़ा सिर, युवकों ने धारदार हथियार से काटा आसिफ का अंगूठा......

 

प्राप्त जानकारी के अनुसार अलीगढ़ के थाना गौंडा इलाके के गांव कैमथल में सुरेश अपनी पत्नी 55 वर्षीय मुकेश देवी और 22 वर्षीय मुंह बोली बेटी प्रियंका के साथ रहता था. बताया गया कि सुरेश सिंह की कोई भी संतान नहीं थी। सुरेश सिंह ने अपने साले टप्पल निवासी भोला की बेटी प्रियंका गोंद ली थी। बीती 30 अगस्त को सुरेश की बीमारी के चलते मृत्यु हो गई थी।

यह भी पढ़ें 👉  05 लीटर शराब के साथ एक युवक गिरफ्तार........

 

जिसकी सोमवार को तेरहवीं का कार्यक्रम था. परिवार के सभी लोग ब्रह्मभोज जमा रहे थे. कार्यक्रम में मृतक सुरेश के तीन अन्य भाई व रिश्तेदार भी शामिल हुए थे. एक तरफ तेरहवीं का कार्यक्रम चल रहा था, तो वहीं दूसरी ओर मृतक सुरेश की पत्नी मुकेश देवी के साथ देवरों व व उनके बेटों ने प्रॉपर्टी बंटवारे को लेकर वाद-विवाद छेड़ दिया। विवाद इतना बढ़ गया कि लाठी-डंडों से मारपीट शुरू हो गई। दोनों ही मां-बेटी के साथ बेरहमी से मारपीट की गई।

 

इसी दौरान मृतक सुरेश का भतीजा मोना पुत्र धर्मवीर सिंह आया और उसने आते ही पहली गोली प्रियंका को मारी. उसके बाद उसकी मां मुकेश देवी को गोली मारकर दोनों को मौत के घाट उतार दिया. घटना को अंजाम देकर सभी आरोपी मौके से फरार हो गए.कार्यक्रम में हुए विवाद के बाद अफरा-तफरी का माहौल बन गया. सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची।

यह भी पढ़ें 👉  पुलिस ने एक किलो चरस के साथ एक शातिर नशा तस्कर को किया गिरफ्तार......

 

उधर डबल मर्डर की सूचना मिलते ही एसएसपी कलानिधि नैथानी, एसपी देहात पलाश बंशल, क्षेत्राधिकारी केबी सिंह मय भारी पुलिस बल और फॉरेंसिक टीम के साथ मौके पर पहुंच गए. पुलिस ने मौके से साक्ष्य एकत्रित कर दोनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. वहीं मुख्य आरोपियों की तलाश में टीमें दबिश दे रही हैं। हालांकि पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू भी कर दी है.

Leave a Reply