उत्तराखण्ड कोटद्वार ज़रा हटके

नरेंद्र मोदी जी के जन्म दिवस पर भारत के 78 वर्षीय राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत कुमार डोभाल को भारत रत्न की मांग…..

ख़बर शेयर करें -

कोटद्वार- प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी जी के जन्म दिवस पर भारत के 78 वर्षीय राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत कुमार डोभाल को भारत रत्न की मांग ग्राम्य एकता प्रगति प्रेमांजलि समागम समिति ( गेप्स )  ने पदमपुर मोटा ढाक में सांस्कृतिक प्रभारी  रेखा ध्यानी जी की अध्यक्षता में देश के महान शिल्पी, निष्काम कर्मयोगी, आत्मनिर्भर भारत के निर्माता, विश्व के सबसे प्रभावशाली व्यक्तित्व, मां भारती के सपूत आदरणीय प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी जी के जन्म दिवस को हर्षोल्लास के साथ मनाया एवं उनके सुखद, स्वस्थ एवम दीर्घ जीवन की मंगल कामना की।

 

इस अवसर पर गेप्स के संस्थापक एवम् देव भूमि उत्कर्ष सेवा समिति के संयोजक राम भरोसा कंडवाल ने कहा कि भारत की धरती देवताओं की धरती है, जब जब इस धरती पर अपराध  एवम् अत्याचार बढ़ा है तब तब ईश्वर ने अपने प्रतिनिधि के रूप में किसी न किसी महान व्यक्ति को भारत माता की रक्षा एवं उसके गौरव को बढ़ाने के लिए अवतरित किया है। आदरणीय मोदी जी में भी वे सभी गुण समाहित हैं जो मर्यादा पुरुषोत्तम में होने चाहिए।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी_बनभूलपुरा हिंसा: मृतको की पत्नियों को जारी हुई विधवा पेंशन…..

 

इस अवसर पर कंडवाल ने मोदी पर लिखी अपनी एक रचना :पड़ते चरण तेरी महकी यह धरती,अवतरित धरा पर मोदी हुए हैं। प्रस्तुत कर खूब वाह वाही लूटी।इस अवसर पर कंडवाल ने सभी को भगवान विश्वकर्मा की जयंती की बधाई दी एवं मां भारती के महान रत्न प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी जी को जन्म दिवस की शुभकामनाएं प्रेषित करते हुए अनुरोध किया की 78 वर्षीय भारत के सुरक्षा सलाहकार राष्ट्र भक्त आई पी एस अजीत कुमार डोभाल जी द्वारा देश सेवा में किया गया योगदान को नकारा नही जा सकता इस लिए उन्हें राष्ट्र की सर्वोत्तम सेवा के लिए भारत रत्न से सम्मानित किया जाय।

 

कंडवाल द्वारा प्रस्तावित प्रस्ताव का सभी ने करतल ध्वनि से स्वागत किया। इस अवसर पर गेप्स के पूर्व अध्यक्ष एवं संरक्षक डॉ चंद्रमोहन बडथ्वाल ने कहा कि आदरणीय मोदी जी के हाथो देश सुरक्षित है और वे राष्ट्र के महान शुभ चिंतक हैं।उपाध्यक्ष दिनेश चौधरी जी ने कहा कि आदरणीय मोदी जी धरातल से जुड़े महान कर्म योगी हैं जो राष्ट्र हित में अपना हर कदम फूंक फूंक कर रखते हैं, जिन्होंने अपना सारा सुख चैन राष्ट्र हित में समर्पित किया है।

यह भी पढ़ें 👉  5 दिन से चल रहे सार्वजनिक अखंड नाम संकीर्तन महायज्ञ का हुआ समापन......

 

मनमोहन काला ने कहा कि जी 20 की बैठक में आए सभी राष्ट्रध्यक्ष मोदी जी की स्नेहिल अगवानी एवम् मेजबानी से भाव विह्वल थे। उन्होंने इस सम्मेलन में यह साबित किया कि उनके लिए राष्ट्र एक घर है।श्रीमती नीरजा गौड़ ने उन्हें विश्व का सर्वोपरि नेता बताते हुए उन्हें शांति दूत की संज्ञा दी।महा मंत्री इंजीनियर जगत सिंह नेगी जी ने उन्हें एक कुशल प्रशासक एवम् राजनीतिज्ञ ही नहीं बल्कि एक महान संत बताते हुए कहा कि आज पूरा विश्व उन्हें अपना मार्गदर्शक मानता है। मीनाक्षी बडथ्वाल ने कहा कि विश्व के अधिकांश देश अपने राष्ट्र का सर्वोपरि सम्मान दे चुके है जो कि भारत की एक बहुत बड़ी उपलब्धि है।

 

देउसे के महामंत्री रामाकांत कुकरेती जी ने कहा कि मोदी जी का उदय सवा सौ करोड़ की  जनता के आह से उपजा एक बल है जिसने भारत को ऋण से उऋण किया है और एक समृद्ध भारत की तरफ बढ़ता कदम बताया।कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए रेखा ध्यानी जी ने कहा कि आदरणीय मोदी जी जैसा प्रधान मंत्री न भूतो न भविष्यती। उन्होंने कहा कि प्रधान मंत्री रात दिन देश की सेवा में लगे है जिन्होंने अपने दोनो कार्यकाल के दौरान कभी छुट्टी नहीं ली मोदी जी हमारे राष्ट्र ध्वज के बीचोबीच बने चक्र की 24 तिल्लियों जैसे राष्ट्र को दिन रात बेहतर से बेहतर बनाने में लगे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  अब्दुल मालिक और मालिक की पत्नी पर प्रशासन ने कसा शिकंजा, मुकदमा दर्ज ,13 बीघा जमीन खुर्द-बुर्द का आरोप .....

 

ध्यानी ने मोदी जी के स्वस्थ एवम् सुखी दीर्घायु के लिए कैलाश पति भगवान भोले नाथ से प्रार्थना करते हुए कार्य क्रम को  विसर्जित किया।इस अवसर पर मिष्ठान वितरण कर खुशी जाहिर करते हुए आदरणीय प्रधान मंत्री जी की दीर्घायु की कामना के लिए प्रार्थना की गई।कार्यक्रम का संचालन संस्थापक राम भरोसा कंडवाल ने किया।

 

इस अवसर पर नंदन सिंह नेगी, राजकिशोर ममगाईं, रमाकांत कुकरेती, अनुराग कंडवाल, एस पी डोबरियाल, डॉ चंद्रमोहन बडथ्वाल, नीरजा गौड़, श्रीमती रेखा ध्यानी, श्रीमती मीनाक्षी बडथ्वाल, इंजीनियर जगत सिंह नेगी, दिनेश चौधरी, मनमोहन काला एवम् राम भरोसा कंडवाल के अलावा कई गणमान्य लोग उपस्थित थे।

Leave a Reply