उत्तराखण्ड काशीपुर क्राइम

जल्द हो गिरफ्तारी नहीं तो मेरे साथ सकती है कोई अनहोनी- प्रतीक अग्रवाल…..

ख़बर शेयर करें -

काशीपुर- काशीपुर में बहुचर्चित व्यापारी की हत्या के प्रयास के मामले में पीड़ित व्यापारी प्रतीक अग्रवाल ने आज एक प्रेस वार्ता में अनूप अग्रवाल पर कई सनसनीखेज आरोप लगाये। वहीं उन्होंने अब तक आरोपियों की गिरफ्तारी में देरी पर भी सवाल उठाए हैं। उन्होंने खुद को और अपने परिवार को खतरे में बताया।

 

आपको पता चले की रामनगर रोड स्थित एक होटल में बुलाई गई पत्रकार वार्ता में प्रतीक अग्रवाल ने कहा कि वह पिछले कई वर्षों से अनूप अग्रवाल के अत्याचारों से बुरी तरह पीड़ित हैं। हद तो तब हो गई जब करीब एक माह पूर्व अनूप अग्रवाल ने  उनसे 20 लाख रुपए उधार मांगे। मना करने पर मुझे प्रताड़ित करना शुरू कर दिया

यह भी पढ़ें 👉  100 वोट पल्ले नहीं, बने हैं महानगर अध्यक्ष अपने बूथ से मात्र 56 वोट दिला पाए सीपी शर्मा……

 

और जब मैं पायते वाली रामलीला के शुभारंभ अवसर पर रामलीला मैदान में पहुंचा तो वहां अनूप अग्रवाल पहले से ही मौजूद थे। जहां अनूप अग्रवाल ने उसे एक एडिटेड अश्लील वीडियो दिखाकर 40 लाख रुपए की मांग की।और मुझ पर अपने साथियों के साथ हमले का प्रयास किया तथा उनके ऊपर फायरिंग की जिसमें वह बाल बाल बचे। इस घटना के बाद से ही उनका परिवार गहरे सदमे में है।

 

उनके बीवी बच्चों सहित मेरे माता-पिता बहुत परेशान है । प्रतीक अग्रवाल ने कहा कि मेरा और मेरे परिवार का अनूप अग्रवाल ने सब सुख चैन छीन लिया है ।मेरे पिताजी दिल के मरीज है। मेरी बीवी बच्चे रो रहे हैं। घटना की जानकारी मिलने पर पूरा परिवार दहशत में आ गया और तब उनके पिताजी ने मजबूर होकर कहा कि अब इस तरह डरने से काम नहीं चलेगा । पानी सिर से ऊपर पहुंच चुका है

यह भी पढ़ें 👉  सर्व मानवाधिकार समाज सुरक्षा संगठन की बैठक आहूत….

 

लिहाजा पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराओ। मैं होशो हवास खो चुका था इसलिए मैंने सामान्य होने पर 25 अक्टूबर को काशीपुर कोतवाली में अनूप अग्रवाल से डरते डरते अपने साथ हुई घटना की जैसे तैसे रिपोर्ट दर्ज कराई। मुझे पुलिस विभाग पर पूर्ण विश्वास है कि वह न्याय संगत कार्रवाई करते हुए अनूप अग्रवाल जैसे शातिर बदमाश को जो फर्जी क्लिपिंग , फर्जी आवाज और और फर्जी फेसबुक आई डी बनाकर सोशल मीडिया पर लोगों को प्रताड़ित करके उन्हें ब्लैकमेल करता है

यह भी पढ़ें 👉  42.64 ग्राम स्मैक एक लाख बीस हजार रूपये के साथ अभियुक्त गिरफ्तार........

 

उसे और उसके दुष्कृत्यों में शामिल उसके पुत्र व साथियों को जेल भेजा जाए। प्रतीक अग्रवाल ने मीडिया से गुहार लगाई कि मीडिया के समक्ष आकर अपनी बात कहने के बाद अब अनूप अग्रवाल से पीड़ित दूसरे लोग भी मीडिया के सामने आकर अपना दर्द व्यक्त करने का साहस जूटा सकते हैं। मेरा आप सभी से अनुरोध है

 

कि मेरे दर्द को आप अपने शब्दों में पिरोकर मेरी आवाज को जनता तक पहुंचाने का कष्ट करेंगे ताकि अनूप अग्रवाल के द्वारा बनाए गए भय के माहौल का पर्दाफाश हो सके और लोगों के दिल और दिमाग में छाई उसकी दहशत समाप्त हो सके ।

Leave a Reply