उत्तराखण्ड ज़रा हटके लालकुआं

झोपड़ी में लगी आग दो गाय की जलकर हुई मौत”एक गाय झुलसी परिवार ने उठाई मुआवजे की मांग…….

ख़बर शेयर करें -

लालकुआं- लालकुआं कोतवाली क्षेत्र के अन्तर्गत बिन्दुखत्ता स्थित पटेलनगर में बीती देर रात को झोपड़ी में भीषण आग लगने के कारण दो दूधारू गाय की जल कर मौत हो गई जबकि एक गाय आग में झुलस कर गम्भीर रूप से घायल हो गई। जिसका पशु चिकित्सकों द्वारा उपचार जारी है वही पीड़ित परिवार ने शासन प्रशासन से जल्द से जल्द उचित मुआवजा दिए जाने की मांग की है।

 

इधर सूचना पर पहुँचे राजस्व विभाग की टीम ने घटना स्थल का निरीक्षण कर अपनी रिपोर्ट तैयार कर ली है जिसके उच्च अधिकारियों को भेजा जायेगा।फिलहाल इस घटना से परिवार में कोहराम मचा हुआ है। बताते चले कि लालकुआं कोतवाली क्षेत्र के अन्तर्गत बिन्दुखत्ता स्थित पटेल नगर निवासी केशर राम पुत्र स्व.हरिराम की झोपडी़ में सोमवार रात्रि लगभग एक बजे अचानक आग लग गई जिसमें वहां बंधी दो दूधारू गाय जलकर मर गई जबकि एक गाय बुरी तरह से झुलस गई है।

यह भी पढ़ें 👉  सिपाही पर जानलेवा हमला करने वाले दो वर्षों से फरार वांछित अभियुक्त गिरफ्तार…..

 

आग की लपेटे देख आसपास के लोग मौके पर पहुँचे जिनके अथक प्रयास से आग पर काबू पाया जा सका अभी तक आग के कारणों का पता नहीं चल सका है मगर अनुमान लगाया जा रहा है कि आग झोपड़ी में मच्छरों को भगाने के लिए जलाई गई भूसी से लगी है। इधर पीड़ित केशर राम ने शासन प्रशासन से जल्द से जल्द उचित मुआवजा दिए जाने की मांग की है। इस घटना में झोपड़ी में उनके रहने और खाने की सामग्री भी रखी गई थी वह भी जलकर नष्ट हो गई है।

यह भी पढ़ें 👉  शार्प मेमोरियल स्कूल के 6 मेधावी छात्राओं को किया गया.सम्मानित मनबीर कौर चेरिटेबल ट्रस्ट की अध्यक्ष रमनप्रीत कौर…..

 

वही पीड़ित परिवार का कहना है कि गायों का दूध बेचकर वह अपनी आजीविका चलाते थे लेकिन अब उनके पास आजीविका चलाने का साधन भी नही रह गया है। उन्होंने शासन प्रशासन से उचित मुआवजा दिए जाने की मांग की है।

यह भी पढ़ें 👉  श्रमजीवी पत्रकार यूनियन ने आयोजित की गोष्ठी, समस्याओं पर हुई चर्चा...

 

इधर स्थानीय लोगों ने भी तहसील प्रशासन से पीड़ित परिवार को उचित मुआवजा दिए जाने की मांग की है। वही इधर राजस्व विभाग के पटवारी नारायण यादव ने बताया कि उन्हें सूचना मिली थी पटेल नगर में आग लगी है जिसके बाद मौके पर पहुंचे हैं तथा उन्होंने घटना का निरीक्षण कर हुए नुकसान का आकलन किया है जिसकी रिपोर्ट तैयार कर ली है तथा अपने उच्च अधिकारी भेज दी जायेगी।उन्होंने बताया कि आग लगने के कारण का पता नही लग पाया है।

Leave a Reply