उत्तराखण्ड ज़रा हटके पौड़ी-गढ़वाल

“ऑपरेशन स्माइल” अभियान को सफल बनाने हेतु किया गया समन्वय गोष्ठी का आयोजन…….

ख़बर शेयर करें -

पौड़ी-पुलिस मुख्यालय उत्तराखण्ड, देहरादून द्वारा जारी दिशा- निर्देशों के क्रम में गुमशुदा बच्चों, महिलाओं, पुरूषों की तलाश एवं पुनर्वास हेतु प्रदेश भर में पूर्व में चलाये गये “ऑपरेशन स्माइल” अभियान के अपेक्षाकृत अच्छे परिणाम परिलक्षित होने पर “ऑपरेशन स्माइल” अभियान को पुन: दिनांक- 01.09.2023 से दिनांक- 31.10.2023 तक चलाया जा रहा है,

 

जिसके क्रम में आज दिनाँक 30.08.2023 को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदया पौड़ी  श्वेता चौबे के निर्देशन में अपर पुलिस अधीक्षक कोटद्वार जया बलूनी द्वारा जनपद स्तर पर गठित “ऑपरेशन स्माइल” टीम के सदस्यों के साथ समन्वय गोष्ठी का आयोजन कर निम्न बिन्दुओं पर चर्चा की गयीः-

यह भी पढ़ें 👉  राष्ट्रवादी रीजनल पार्टी के कार्यकर्ता भी इस आंदोलन के समर्थन मे कूच मे शामिल हुए…….

 

1- ऑपरेशन स्माइल टीम के सभी सदस्यों को पूर्ण मनोयोग से कार्य करते हुये अभियान के दौरान गुमशुदा बच्चों व महिलाओं के प्रति संवेदनशीलता रखते हुये अभियान को पूर्ण सफल बनाया जाये।

2- अभियान में गुमशुदा बच्चों के साथ ही गुमशुदा पुरुषों व महिलाओं की भी तलाश की जायेगी। बरामदगी हेतु शेष रह गये गुमशुदाओं की सूची ऑपरेशन स्माईल अभियान टीम के सदस्यों से साझा की गयी।

 

 

3- ऐसे स्थान जहां गुमशुदाओं के मिलने की सम्भावना अधिक है जैसे शेल्टर होम्स, नारी निकेतन, वृद्धाश्रम, संप्रेक्षण गृह, विशेष गृह, ढाबे, कारखाने, बस अड्डे, रेलवे स्टेशन, धार्मिक स्थान, आश्रम, धर्मशाला आदि में विशेष ध्यान देने हेतु बताया गया।

यह भी पढ़ें 👉  अजय भट्ट के विशेष प्रयासों से लालकुआं-अमृतसर ट्रेन संचालन को मिली मंजूरी......

4- फील्ड में गयी टीमों को कार्यालय स्तर से जनपद में गठित एण्टी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट से तकनीकी सहयोग एवं अभियोजन अधिकारी के स्तर से विधिक सहायता प्रदान की जायेगी।

 

 

5- कुछ मामलों में गुमशुदाओं का मिलान प्रदेश/सीमावर्ती राज्यों में बरामद लावारिस शवों से भी किये जाने तथा गुमशुदाओं के बरामद होने पर उनकी सुपुर्दगी व पुनर्वास के सम्बन्ध में नियमानुसार कार्यवाही करने हेतु बताया गया।

6- गुमशुदा/बरामद बच्चों व महिलाओं से पूछताछ का कार्य यथासम्भव महिला पुलिस कर्मियों से कराये जाने तथा बरामद होने वाले बच्चों, महिला, पुरुषों के सम्बन्ध में किसी अपराध के घटित होने की जानकारी मिलने पर नियमानुसार कठोर वैधानिक कार्यवाही किये जाने के निर्देश दिए गए।

यह भी पढ़ें 👉  व्यापारियों से मुलाकात के बाद शिव अरोरा बोले शासन प्रशासन स्तर पर व्यापारी हित मे जहाँ वार्ता करनी होगी करेगे.....

 

उक्त गोष्ठी में एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट टीम, किशोर कुमार प्रतिनिधि खंड कार्यालय, साक्षी चाइल्ड वेलफेयर, शालिनी सिंह प्रोजेक्ट हेल्प इंडिया, बाल कल्याण समिति सदस्य  विमल ध्यानी, राकेश चंद्रा, दीपक रावत विधि स्वयंसेवक, वसुंधरा नेगी बाल विकास विभाग,  मन्दा महिला कल्याण विभाग संप्रेषण गृह,  रविन्द्र भण्डारी आस्था सेवा संस्थान, यजेंद्र सिंह रावत पैनल अधिवक्ता कोटद्वार आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply