लालकुआं

10 सितंबर को मनाया जायगा भारत रत्न पंडित गोविंद बल्लभ पंत का 134 वां जन्म उत्सव – गोपाल रावत

ख़बर शेयर करें -

लालकुआं – (जफर अंसारी) 10 सितंबर को कोविड नियमों को ध्यान में रखकर बड़े ही धूमधाम से भारत रत्न पंडित गोविंद बल्लभ पंत का 134 वां जन्म उत्सव मनाया जायेगा यह जानकारी देते हुए भारत रत्न पंडित गोविन्द बल्लभ पंत समिति के प्रदेश संयोजक गोपाल रावत ने बताया कि हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी जयंती पर अनेक विशिष्ट एवं गणमान्य महानुभाव अतिथियों के द्वारा अपनी श्रद्धा सुमन अर्पित की जाएगी संयोजक श्री गोपाल रावत ने बताया कि गत वर्ष की भांति इस वर्ष भी पंडित जी का जन्मोत्सव मनाए जाने की  तैयारी पूरी की जा चुकी है उन्होंने कहा कि कोरोनावायरस संक्रमण काल की पहली व दूसरी लहर काफी कड़वे अनुभव हमें दे कर गई है संगठन से जुड़े कई परिवारों से दुखद समाचार  प्राप्त हुए जो परिवार अपनों को इस काल में खो चुके हैं उनके लिए  पूरे संगठन की ओर से सहानुभूति हैं उन सभी परिवारों के लिए हम अपनी संवेदना प्रकट करते हैं।जो अपनों को खो चुके है। रावत ने कहा कि गोविंद बल्लभ पंत जी ने आजादी दिलाने के साथ ही स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद देश को दिशा देने में भी अविस्मरणीय योगदान दिया था। उनके जीवन का हर अध्याय हमें समाज सेवा के लिए प्रेरित करता पंत जी ने यहां आजादी की अलख जलाई और अनिर्वाय शिक्षा की शुरुआत की।उन्होनें कहा खुशहाल भारत के लिए युवा पीढ़ी को महापुरुषों के जीवन से प्रेरणा लेनी होगी पंडित गोविंद बल्लभ पंत यूपी के पहले मुख्यमंत्री और देश के चौथे गृहमंत्री रहे। भारत रत्न प० गोविन्द बल्लभ पंत ने राजनीति के क्षेत्र में अपनी अहम भूमिका निभाई। यह महान राजनीतिज्ञ तो थे ही साथ ही वह एक जाबाज सेनानी भी थे। उन्होनें अपने जीवन में कई बड़े फैसले लिए तथा अंग्रेजों के कई कानूनों के खिलाफ आवाज भी उठाई

Leave a Reply